गाजियाबाद। 2019 के लोकसभा चुनावों से पहले भाजपा को बड़ा झटका लगा है। पैसे लेकर चुनावों में टिकट बांटने का मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है। बता दें कि गाजियाबाद के लोनी में एक महिला नेत्री ने भाजपा नेता पर टिकट के एवज में 5 लाख रुपये लेने का आरोप लगाया था। महिला नेत्री ने भाजपा के आला नेताओं से भी शिकायत की, लेकिन आरोपी नेता पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। इसके बाद महिला नेत्री ने न्यायालय का दरवाजा खटखटाया, जिसे गंभीरता से लेते हुए आरोपी भाजपा नेता के खिलाफ ट्रोनिका सिटी थाने में केस दर्ज करने के आदेश दिए हैं। हालांकि थाना प्रभारी ने कहा है कि अभी तक न्यायालय के आदेश दर्ज नहीं हुए हैं। आदेश मिलते ही कार्रवाई की जाएगी। इधर, मामले में कोर्ट का आदेश आते ही विपक्षियों की बाछें खिल गई हैं। अब वे इस मुद्दे को लोकसभा चुनाव में भुना सकते हैं। दिल्ली से सटे गाजियाबाद के भाजपा जिला अध्यक्ष की मुश्किल अब बढ़ती दिखाई दे रही हैं, क्योंकि हाल में ही हुए निकाय चुनावों में पैसे लेकर टिकट बंटवारे का मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है। बता दें कि हाल में ही हुए निकाय चुनाव के दौरान लोनी नगर पालिका इलाके में एक महिला नेत्री ने भाजपा के जिलाध्यक्ष बसंत त्यागी पर सभासद पद के टिकट की एवज में 5 लाख रुपये मांगने का आरोप लगाया था। महिला नेत्री का कहना है कि इसकी शिकायत भाजपा के आला नेताओं से भी की गई थी, जिसका परिणाम यह निकला कि जिलाध्यक्ष बसंत त्यागी ने अपने कुछ लड़कों को भेजकर उसके साथ मारपीट की और इस मामले को पूरी तरह दबाए जाने के लिए उसको धमकी भी दी गई। इसके बाद यह मामला थाने तक पहुंच गया, लेकिन इसके बावजूद भाजपा का जिला अध्यक्ष पर कोई ठोस कार्रवाई नहीं हो सकी। थक-हारकर महिला ने न्यायालय का दरवाजा खटखटाया। महिला की अर्जी को न्यायालय ने गंभीरता से लेते हुए भाजपा के जिलाध्यक्ष बसंत त्यागी के खिलाफ थाना लोनी ट्रोनिका सिटी को मामला दर्ज करने के आदेश दे दिए थे। थाने में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। गाजियाबाद- भाजपा को बड़ा झटका, इस बड़े नेता पर पैसे लेकर टिकट देने का का आरोप, मुकदमा दर्ज

गाजियाबाद। 2019 के लोकसभा चुनावों से पहले भाजपा को बड़ा झटका लगा है। पैसे लेकर चुनावों में टिकट बांटने का मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है। बता दें कि गाजियाबाद के लोनी में एक महिला नेत्री ने भाजपा नेता पर टिकट के एवज में 5 लाख रुपये लेने का आरोप लगाया था। महिला नेत्री ने भाजपा के आला नेताओं से भी शिकायत की, लेकिन आरोपी नेता पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। इसके बाद महिला नेत्री ने न्यायालय का दरवाजा खटखटाया, जिसे गंभीरता से लेते हुए आरोपी भाजपा नेता के खिलाफ ट्रोनिका सिटी थाने में केस दर्ज करने के आदेश दिए हैं। हालांकि थाना प्रभारी ने कहा है कि अभी तक न्यायालय के आदेश दर्ज नहीं हुए हैं। आदेश मिलते ही कार्रवाई की जाएगी। इधर, मामले में कोर्ट का आदेश आते ही विपक्षियों की बाछें खिल गई हैं। अब वे इस मुद्दे को लोकसभा चुनाव में भुना सकते हैं।        दिल्ली से सटे गाजियाबाद के भाजपा जिला अध्यक्ष की मुश्किल अब बढ़ती दिखाई दे रही हैं, क्योंकि हाल में ही हुए निकाय चुनावों में पैसे लेकर टिकट बंटवारे का मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है। बता दें कि हाल में ही हुए निकाय चुनाव के दौरान लोनी नगर पालिका इलाके में एक महिला नेत्री ने भाजपा के जिलाध्यक्ष बसंत त्यागी पर सभासद पद के टिकट की एवज में 5 लाख रुपये मांगने का आरोप लगाया था। महिला नेत्री का कहना है कि इसकी शिकायत भाजपा के आला नेताओं से भी की गई थी, जिसका परिणाम यह निकला कि जिलाध्यक्ष बसंत त्यागी ने अपने कुछ लड़कों को भेजकर उसके साथ मारपीट की और इस मामले को पूरी तरह दबाए जाने के लिए उसको धमकी भी दी गई। इसके बाद यह मामला थाने तक पहुंच गया, लेकिन इसके बावजूद भाजपा का जिला अध्यक्ष पर कोई ठोस कार्रवाई नहीं हो सकी। थक-हारकर महिला ने न्यायालय का दरवाजा खटखटाया। महिला की अर्जी को न्यायालय ने गंभीरता से लेते हुए भाजपा के जिलाध्यक्ष बसंत त्यागी के खिलाफ थाना लोनी ट्रोनिका सिटी को मामला दर्ज करने के आदेश दे दिए थे। थाने में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।      गाजियाबाद- भाजपा को बड़ा झटका, इस बड़े नेता पर पैसे लेकर टिकट देने का का आरोप, मुकदमा दर्ज

गाजियाबाद। 2019 के लोकसभा चुनावों से पहले भाजपा को बड़ा झटका लगा है। पैसे लेकर चुनावों में टिकट बांटने का मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है। बता दें कि गाजियाबाद के लोनी में एक महिला नेत्री ने भाजपा नेता पर टिकट के एवज में 5 लाख रुपये लेने का आरोप लगाया था। महिला नेत्री ने भाजपा के आला नेताओं से भी शिकायत की, लेकिन आरोपी नेता पर कोई कार्रवाई नहीं हुई।

इसके बाद महिला नेत्री ने न्यायालय का दरवाजा खटखटाया, जिसे गंभीरता से लेते हुए आरोपी भाजपा नेता के खिलाफ ट्रोनिका सिटी थाने में केस दर्ज करने के आदेश दिए हैं। हालांकि थाना प्रभारी ने कहा है कि अभी तक न्यायालय के आदेश दर्ज नहीं हुए हैं। आदेश मिलते ही कार्रवाई की जाएगी। इधर, मामले में कोर्ट का आदेश आते ही विपक्षियों की बाछें खिल गई हैं। अब वे इस मुद्दे को लोकसभा चुनाव में भुना सकते हैं।

दिल्ली से सटे गाजियाबाद के भाजपा जिला अध्यक्ष की मुश्किल अब बढ़ती दिखाई दे रही हैं, क्योंकि हाल में ही हुए निकाय चुनावों में पैसे लेकर टिकट बंटवारे का मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है। बता दें कि हाल में ही हुए निकाय चुनाव के दौरान लोनी नगर पालिका इलाके में एक महिला नेत्री ने भाजपा के जिलाध्यक्ष बसंत त्यागी पर सभासद पद के टिकट की एवज में 5 लाख रुपये मांगने का आरोप लगाया था।


महिला नेत्री का कहना है कि इसकी शिकायत भाजपा के आला नेताओं से भी की गई थी, जिसका परिणाम यह निकला कि जिलाध्यक्ष बसंत त्यागी ने अपने कुछ लड़कों को भेजकर उसके साथ मारपीट की और इस मामले को पूरी तरह दबाए जाने के लिए उसको धमकी भी दी गई। इसके बाद यह मामला थाने तक पहुंच गया, लेकिन इसके बावजूद भाजपा का जिला अध्यक्ष पर कोई ठोस कार्रवाई नहीं हो सकी। थक-हारकर महिला ने न्यायालय का दरवाजा खटखटाया। महिला की अर्जी को न्यायालय ने गंभीरता से लेते हुए भाजपा के जिलाध्यक्ष बसंत त्यागी के खिलाफ थाना लोनी ट्रोनिका सिटी को मामला दर्ज करने के आदेश दे दिए थे। थाने में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

Share it
Top