..तो बिना सिम के चल रहे थे जेल में मोबाइल.!

..तो बिना सिम के चल रहे थे जेल में मोबाइल.!


बागपत। बागपत जेल में की गयी छापेमारी में हर बार मोबाइल मिले लेकिन मोबाइल किसके थे कौन चला रहा था यह भी आज तक किसी को पता नहीं। सुनील राठी के जेल स्थानानांतरण के बाद बागपत जेल में तलाशी के दौरान आधा दर्जन मोबाइल तो मिले लेकिन उनके अंदर से सिम गायब थे। अब ऐसे में पुलिस के सामने चुनौती खड़ी हो गयी है कि आखिर मोबाइल कौन चला रहा था।
जेल प्रशासन के उन दावों की हवा कैदियों ने निकाल दी कि बागपत जेल में मोबाइल का प्रयोग नहीं होता है। एक चैकिन के दौरान ही बागपत जेल से छह मोबाइल बरामद किये गये जिसमें दो फोन एंड्रॉयड थे। इसके साथ ही चम्मच से बने चाकू भी पुलिस ने बरामद किये। अब चेकिंग में मिली इन मोबाइल फोन ने पुलिस के होश उड़ा दिये है।
सुत्रों की माने तो बरामद किये गये सभी मोबाइल से सीम कार्ड गायब है। जिसके चलते मोबाइल फोन का डाटा खंगालने में परेशानी हो गयी है। यह पता लगाना आसान नहीं है कि यह फोन किसके थे और जेल के अंदर इनको कौन चला रहा था। हालाकि जेल पुलिस चैकिन के बाद जेल में सख्ती का दावा कर रही है। लेकिन अभी भी जेल के अंदर मोबाइल फोन का चलना बताया जा रहा है। जेल के अंदर से कैदी अपने परिजनों को फोन तक कर रहे है। लेकिन जेलर सुरेश बहादुर सिंह का कहना है। जेल में अब कोई मोबाइल फोन नहीं चल रहा है हर रोजाना बैरक की कड़ी चेकिंग की जाती है। गश्त बढ़ा दी गयी है। शासन से कुछ पुलिस कर्मी उनको मिले है। जिसके बाद चेकिंग का काम आसान हो गया है। जेल में किसी भी प्रकार की लापरवाही पर सख्त कार्रवाई की जायेगी।

Share it
Top