कांग्रेस का भारत बंद विफल, सपा ने धरना देकर भाजपा को कोसा

कांग्रेस का भारत बंद विफल, सपा ने धरना देकर भाजपा को कोसा


फर्रुखाबाद । महंगाई और भ्रष्टाचार के विरोध में कांग्रेस का भारत बन्द यहां पूरी तरह असफल रहा। फर्रुखाबाद-फतेहगढ़ युग्म नगरों में रोज की तरह बाजार खुला रहा। सतर्कता के तौर पर जगह-जगह पुलिस तैनात रही। सपा नेताओं ने भी बंदी को लेकर तहसील मुख्यालय पर धरना दिया और भाजपा पर जमकर भड़ास निकाली।

पेट्रोल-डीजल तथा रसोई गैस के आसमान पर पहुचे दाम को मुद्दा बना भाजपा को घेरने के लिए हाई कमान के आह्वान पर बंदी को सफल बनाने के लिए कांग्रेसी सड़कों पर उतरे। कांग्रेस पार्टी की प्रदेश स्तरीय नेता ऊषा दुबे की अगुवाई में सोमवार को यहां जिलाध्यक्ष मृत्युंजय शर्मा सहित 13 पदाधिकारी व सैकड़ों कार्यकर्ता बाजार बन्द कराने के लिए निकले। उन्होंने बाजार बन्द कराने की पुरजोर कोशिश की, लेकिन दुकानदारों ने दुकानें बन्द नहीं की। कांग्रेस नेता कहीं जबरिया दुकानें बन्द न करा दें, इसके लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गये थे।

जिलाधिकारी मोनिका रानी व पुलिस अधीक्षक पी दिनेश मिश्रा सहित सभी अधिकारी कांग्रेस नेताओं पर नजर गड़ाये रहें। इस मौके पर कांग्रेस के जिलाध्यक्ष मृत्युंजय शर्मा ने दावा किया कि भारत बन्द अभियान सफल रहा है। कांग्रेस नेता कौशलेन्द्र यादव, पुन्नी शुक्ला सहित 13 पदाधिकारी बाजार बन्द कराने के लिए दोपहर एक बजे तक सक्रिय रहे।

दूसरी तरफ समाजवादी पार्टी के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने तहसील मुख्यालय पर धरना देते हुए सभा की। सभा में देश में बढ़ रहे भ्रष्टाचार के लिए भाजपा सरकार को दोषी ठहराया। पार्टी प्रवक्ता पुष्पेन्द्र यादव ने कहा, भाजपा ने अच्छे दिन लाने का वादा किया था। रसोई गैस की कीमत 400 रुपये से बढ़ कर 870 रुपये पेट्रोल 40 रुपये से बढ़ कर 80 के ऊपर प्रति लीटर पहुंच गये हैं, इससे अच्छे दिन और क्या हो सकते है। इस मौके पर विश्वास गुप्ता, रजत क्रांतिकारी, रंजीत चक सहित 50 से अधिक आंदोलन कारी सपाई मौजूद रहें।


Share it
Share it
Share it
Top