मेरठ: हाजी याकूब कुरैशी की बेटी को गिरफ्तार करने पहुंची भारी फोर्स, मेरठ में सनसनी

मेरठ: हाजी याकूब कुरैशी की बेटी को गिरफ्तार करने पहुंची भारी फोर्स, मेरठ में सनसनी

मेरठ। सोमवार को बसपा के पूर्व मंत्री हाजी याकूब की पुत्री द्वारा सदर थाना क्षेत्र के वेस्ट एंड रोड स्थित मेरठ पब्लिक स्कूल फॉर गल्र्स में काटे गए गदर के बाद मंगलवार को पीडि़त छात्राओं के परिजनों और भाजपा नेताओं ने स्कूल में जमकर हंगामा किया। इस दौरान पहुंची पुलिस भी अभिभावकों और भाजपा नेताओं का आक्रोश शांत नहीं कर सकी।
बाद में स्कूल प्रबंधन ने याकूब परिवार की तीनों छात्राओं को स्कूल से रस्टीकेट करते हुए आरोपी महिला के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। देर शाम भारी फोर्स के साथ हाजी याकूब कुरैशी के घर पर छापा मारा गया और उसकी बेटी को गिरफ्तार करने का प्रयास किया गया, लेकिन भारी विरोध के चलते पुलिस बल को बैरंग लौटना पडा। मंगलवार की सुबह सैकड़ो परिजनों ने सुबह करीब सात बजे स्कूल में चेयरमैन ताराचंद शास्त्री का घेराव करते हुए जमकर हंगामा किया। इस दौरान भाजपा नेता अजय गुप्ता, मुकेश सिंघल और अमित आदि भी पहुंच गए और स्कूल प्रबंधन पर आरोपियों के बचाव का आरोप लगाते हुए अभिभावकों के साथ हो गए। उन्होने सवाल उठाया कि जब स्कूल में बच्चे सुरक्षित ही नहीं तो वह कैसे अपने बच्चों को स्कूल भेजें?
हंगामे के की जानकारी के बाद इंस्पेक्टर सदर पंकज पंत भी फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और लोगों को समझाने का प्रयास किया, इस पर अभिभावकों ने उनसे सवाल किया कि जब उनके बच्चों की पिटाई हो रही थी तो पुलिस कहां थी? करीब तीन घंटे चले हंगामे के बाद बैकफुट पर आते हुए स्कूल प्रबंधन ने आनन-फानन में याकूब परिवार की तीन छात्राओं इलमा और रमशा कुरैशी पुत्री सलीम और नगमा व अलीशा कुरैशी पुत्री याकूब और संजीदा को स्कूल से निष्कासित कर दिया। वहीं स्कूल के चेयरमैन ताराचंद शास्त्री और प्रधानाचार्य संजीव अग्रवाल ने आरोपी महिला और एक दर्जन अज्ञात युवकों के खिलाफ इंस्पेक्टर सदर को तहरीर दी है। वहीं इंस्पेक्टर सदर पंकज पंत ने बताया कि सोमवार को पीडि़त छात्रा के पिता यूसुफ द्वारा दी गई तहरीर पर कार्यवाही करते हुए देर रात पूर्व मंत्री हाजी याकूब के घर पर दबिश दी गई थी, लेकिन कोई आरोपी हाथ नहीं आया।
गौरतलब है कि हाजी याकूब की पोती रमशा को टीचर द्वारा क्लास बंक करने से डांटने पर सोमवार को हाजी याकूब की पुत्री ने स्कूल में हथियारबंद युवकों के साथ हंगामा करते हुए कुछ छात्राओ की चाबुक से पिटाई की थी। इस मामले में एक छात्रा के पिता ने आरोपी महिला सहित कई अज्ञात के खिलाफ सदर थाने में तहरीर दी थी, लेकिन इसके बावजूद देर रात तक स्कूल प्रबंधन इस मामले में पर्दा डालता रहा था। पुलिस ने स्कूल के सीसीटीवी कैमरो की फुटेज निकलवाई तो पूरी सच्चाई सामने आ गई। खुशकिस्मत है तू कि याकूब की बेटी तुझसे बात कर रही है सामने होती तो... सोमवार को जिस समय बवाल हुआ उस समय स्कूल की प्रधानाचार्या मधु सिरोही अवकाश पर थीं।
सूत्रों के अनुसार स्कूल पहुंचने के बाद हाजी याकूब की पुत्री प्रिंसिपल का मोबाइल मिला कर उन्हें काफी भला-बुरा कहा। यहां तक कि यह धमकी भी दी कि तू खुशकिस्मत है जो आज अवकाश पर है और हाजी याकूब की बेटी तुझसे बात कर रही है, सामने होती तो चाबुक से तेरी खाल उधेड़ देती। हालांकि प्रधानाचार्या मधु सिरोही ने इस बात की पुष्टि नहीं की, लेकिन उनके चेहरे पर दहशत को देखकर साफ पता लगता है कि वह किसी दबाव में हैं।

Share it
Top