मेरठ: डेयरी संचालक की हत्या, 9 नामजद...रविवार की सुबह किया गया अंतिम संस्कार

मेरठ: डेयरी संचालक की हत्या, 9 नामजद...रविवार की सुबह किया गया अंतिम संस्कार

मेरठ। सरधना थाना क्षेत्र में शनिवार देर रात जमीनी विवाद में एक डेयरी संचालक की गोली मारकर हत्या कर दी गई। कालंद रोड अपनी पत्नी के साथ बाइक पर जाते समय हमलावरों ने उस पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दी। पुलिस ने शव को पीएम के लिए भेज दिया।
जानकारी के अनुसार मोहल्ला घोसियान में अनीस उर्फ बबलु पुत्र मुंतियाज का परिवार रहता है। शनिवार रात करीब 9 बजे अनीस अपनी पत्नी सोनिया के साथ बाइक पर सवार होकर गंज बाजार स्थित एक डॉक्टर के यहां दवाई लेने जा रहा था। जैसे ही वह कालंद रोड पर बिजली घर के सामने पहुंचा तो पीछे से दो बाइकों पर सवार होकर आए करीब आधा दर्जन हमलावरों ने उस पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दी। जिससे उसके सिर में कई गोलियां लगी तथा वह सड़क पर गिर गया। बाइक पर पीछे बैठी उसकी पत्नी सोनिया हमले में बाल बाल बच गई। गोलियों आवाज सुनकर आसपास के लोग उधर दौड़े। जिन्हें आता देख हमलावर हवाई फायरिंग करते हुए वहां से फरार हो गए। आनन फानन में अनीस को घायल अवस्था में सीएचसी लाया गया। जहां से चिकित्सकों ने उसकी हालत चिंताजनक देख उसे मेरठ रैफर कर दिया। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने अनीस के शव को पीएम के लिए मोर्चरी भेज दिया। उधर घटना से गुस्साए अनीस के परिजनों ने पहले सीएचसी में हंगामा उनका कहना था कि सीएचसी में 108 नंबर की चार एम्बुलेंस खड़ी थी लेकिन उनके चालक मौजूद नहीं थे, जिसके चलते काफी देर तक अनीस वही तड़पता रहा। फिर वह थाने पहुंच गए और वहां हमलावरों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। पुलिस ने किसी तरह उन्हें शांत कराया। बाद में पुलिस ने घटना स्थल पर पहुंचकर जांच पड़ताल की और वहां मिले लोगों से पूछताछ की। सूचना पर एसपी देहात राजेश कुमार, एसपी क्राइम शिवराम यादव, सीओ सरधना संतोष कुमार, सीओ जितेंद्र कुमार कई थानों की फ़ोर्स के साथ पहुंचे। मृतक के परिजनों ने मोहल्ले के ही एक परिवार से प्लॉट को लेकर रंजिश चलने की बात कही। साथ ही उसी रंजिश में अनीस की हत्या होने का आरोप लगाया। इस संबंध में मृतक के भाई गुलज़ार ने 9 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। जिनमें बाबू घोसी पुत्र जानी, मीम पुत्र नूर मोहम्मद, भीमू पुत्र मीम, अल्लहवाला पुत्र नूर मोहम्मद, साबिर व आमिर पुत्रगण बाबू, इमरान पुत्रगण शेरू, इरफ़ान, अजिम पुत्र आजम शामिल है। घटना के बाद रविवार को मोहल्ला सन्नाटे के बीच रहा। पूरा इलाका छावनी में तब्दील है।

Share it
Top