मेरठ की फ्लोर मिल में पकड़ी 29 हार्स पावर की विद्युत चोरी...कर्तव्यों एवं दायित्वों के निर्वाहन में लापरवाही बरतने पर अवर अभियन्ता को निलम्बित कर आरोप पत्र निर्गत किया

मेरठ। आशुतोष निरंजन (आईएएस) प्रबन्ध निदेशक, पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लि०, मेरठ के निर्देशन में डिस्काम की रेड एवं विजिलेंस टीम द्वारा मेरठ की फ्लोर मिल में रेड डालकर बड़ी विद्युत चोरी पकड़ी।

विगत 14 मई को विद्युत चोरी की प्राप्त सूचना के आधार पर डिस्काम द्वारा विभागीय एवं विजिलेंस की टीम गठित कर मनोज कुमार, अधिशासी अभियन्ता (रेड) के नेतृत्व में अमरदीप उर्फ पप्पू पुत्र मूलचन्द निवासी दहार थाना सरूरपुर मेरठ की फ्लोर मिल में 29 हार्स पावर की बड़ी विद्युत चोरी पकड़ी गयी।

फ्लोर मिल के परिसर में रेड़ डालने पर पाया गया कि आरोपकर्ता द्वारा पास के टयूबवेल की एल०टी० लाईन से तार जोड़कर औद्योगिक संयोजन पर विद्युत चोरी की जा रही थी। आरोपकर्ता पर एफ०आई०आर० दर्ज करा दी गयी है। विद्युत चोरी के एक अन्य प्रकरण में विभागीय एवं विजिलेंस की टीम द्वारा आरोपकर्ता महफूज पुत्र अब्दुल रहमान निवासी ग्राम नानू थाना सरधना मेरठ में छापामार कर 2 किलोवाट की विद्युत चोरी पकड़ी। आरोपकर्ता पास की एल०टी० लाईन से 2 कोर वाली केबिल जोड़कर विद्युत चोरी कर रहा था। इस सम्बन्ध में आशुतोष निरंजन (आईएएस) प्रबन्ध निदेशक, पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लि०, मेरठ द्वारा बताया गया कि जेई निहाल सिंह, अन्र्तगत विद्युत वितरण खण्ड-द्वितीय, मेरठ को कर्तव्यों एवं दायित्वों के निर्वाहन में लापरवाही बरतने पर तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर आरोप पत्र निर्गत किया गया है।

विद्युत चोरी से सम्बन्धित कोई भी सूचना मोबाईल नं० 9193330020 पर एवं डिस्काम के ट्वीटर हैण्डल/उकचअअदस तथा हेल्पलाईन नं० 1912 पर भी दे सकते हैं। सूचना देने वाले का नाम पूर्णतया गोपनीय रखा जायेगा। रेड के दौरान मौके पर मनोज कुमार, अधिशासी अभियन्ता (रेड), राजवीर सिंह, इंस्पेक्टर विजिलेंस, संजय कुमार, अवर अभियन्ता विजिलेंस एवं कैलाश चन्द आदि उपस्थित रहे। इस सम्बन्ध में धारा 135 अधिनियम में अभियोग पंजीकृत कराया गया है।

Share it
Top