मेरठ: 2022 तक नए भारत का निर्माण करना हैत्न राजनाथ

मेरठ। रैपिड एक्शन फोर्स की 108 बटालियन ने शनिवार को अपना सिल्वर जुबली समारोह बनाया। भाजपा सरकार के केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह कार्यक्रम में चीफ गेस्ट के तौर पर उपस्थित रहे। समारोह के दौरान राजनाथ सिंह ने जवानों और अफसरों को सम्मानित भी किया।
इससे पूर्व परतापुर हवाई पट्टी पर केन्द्रीय ग्रह मंत्री के पहुंचने पर भाजपा नेताओं ने उनका जोरदार ढंग से स्वागत किया। रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) ने 108 वाहिनी परिसर में अपनी 25 साल की त्वरित सेवा पर शानदार परेड और बेहतर अनुशासन से सिल्वर जुबली समारोह को भव्य बना दिया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा सभी बहादुर सिपाहियों, अधिकारियों पर मुझे नाज है। उन्होंने रैपिड एक्शन फोर्स सिल्वर जुबली समारोह के उपलक्ष्य पर डाक टिकट जारी किया। उन्होंने कहा कि 2022 तक नए भारत का निर्माण करना है और उसका संकल्प लेते है। कार्यक्रम थाना परतापुर क्षेत्र के दिल्ली रोड पर स्थित रिठानी के समीप मौजूद वेदव्यासपुरी स्थित आरएएफ 108 बटालियन में किया जाएगा। इस कार्यक्रम में देश की कुल 10 बटालियनों के जवान और अधिकारी भी शिरकत करेंगे। सिल्वर जुबली समारोह के दौरान आरएएफ के जवानों ने शानदार परेड का आयोजन किया। इस दौरान सांस्कृतिक और रंगारंग कार्यक्रम भी आयोजित किए गए। कार्यक्रम के दौरान जवानों को उनकी सेवा के लिए मेडल और ट्राफी दी। कार्यक्रम के दौरान कड़ी सुरक्षा व्यवस्था भी देखने को मिली। एनएसजी कमांडोंज ने एक दिन पहले से ही कार्यक्रम स्थल पर पहुंच कर अपने घेरे में लेकर, सुरक्षा व्यवस्था के प्रर्याप्त इन्तजामों का जायजा लिया है। कार्यक्रम के दौरान 3 एसपी, 1 एएसपी, 8 सीओ और 25 इंस्पेक्टर के अलावा 80 दारोगा और अन्य पुलिस कर्मियों की ड्यूटी भी लगायी गई। बता दें, आरएएफ बटालियन यानि रैपिड एक्शन फोर्स दंगा नियंत्रण करने में निपुण है। यह केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की विशेष शाखा है। इसकी स्थापना नई दिल्ली में 11 दिसंबर 1991 में हुई थी। यह बटालियन दंगा नियंत्रण करने, भीड़ को काबू में करने, आपदा राहत एवं बचाव कार्य में विशेष कार्य करती है। यह बटालियन बिना समय गंवाए अपना कार्य शुरू कर देती है। आरएएफ की नीली पोशाक शांति का प्रतीक मानी जाती रही है। आरएएफ किसी भी प्रकार की स्थिति से निपटने के लिए मौके पर किसी और फोर्स के पहुंचने से पहले स्थिति को नियन्त्रित करने के लिए भी जानी जाती है।

Share it
Top