प्रथम चरण मेंं 20 आई०पी०डी०एस० नगरों में स्थापित सभी उपकरणों/एसेट के सर्वे का कार्य प्रारम्भ किया

मेरठ। आशुतोष निरंजन (आईएएस) प्रबन्ध निदेशक, पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लि०, मेरठ के निर्देशन में डिस्काम के अन्र्तगत प्रथम चरण मेंं 20 आई०पी०डी०एस० नगरों में स्थापित सभी उपकरणों/एसेट के सर्वे का कार्य प्रारम्भ किया जा रहा है। सर्वे उपरान्त सभी स्थापित उपकेन्द्रों, पोषकों, वितरण परिवर्तकों एवं पोल आदि पर दर्शाया जा सकेगा।

इन कार्यों को गति प्रदान करने के लिये इं० वी०एन० सिंह, मुख्य अभियन्ता (वाणिज्य) की अध्यक्षता में डिस्काम की जी०आई०एस० कमेटी द्वारा जी०आई०एस० कार्यों में सम्बन्धित कार्यदायी संस्थाओं के साथ आज बैठक आयोजित हुई, जिसमें एकत्र की जाने वाली सूचना के प्रारूपों पर विचार-विर्मश किया गया एवं जी०आई०एस० सर्वे को सफलतापूर्वक किये जाने हेतु कार्यदायी संस्थाओं को दिशा निर्देश दिये गये। जी०आई०एस० मैपिंग द्वारा ब्रेक डाउन त्वरित अडेन्ड कर विद्युत व्यवस्था बहाल की जा सकेगी। उपभोक्ताओं को निर्बाध विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित की जा सकेगी। जी०आई०एस० मैपिंग द्वारा विभाग की सम्पत्ति जैसे ट्रांसफार्मर, पोल इत्यादि की जानकारी को जी०आई०एस० मैप पर दर्शाया जायेगा एवं विद्युत लाईन हानियों की सही गणना की जा सकेगी जिससे विद्युत लाईन हानियों को कम किया जा सकेगा एवं विद्युत चोरी पर अंकुश लग सकेगा। आशुतोष निरंजन, (आईएएस) प्रबन्ध निदेशक, पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लि०, मेरठ द्वारा अवगत कराया गया कि जी०आई०एस० मैपिंग द्वारा विद्युत तंत्र को मजबूत किया जा सकेगा, जिससे विद्युत व्यवस्था को सुदृढ़ कर उपभोक्ताओं को बेहतर विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित की जा सकेगी। बैठक में इं० एस०एस० राजवंशी अधीक्षण अभियन्ता (आर.ए.पी.डी. आर.पी.), इं० पवन अग्रवाल, अधीक्षण अभियन्ता (वाणिज्य), इं० सोनू रस्तौगी अधिशासी अभियन्ता (वि०), इं० मनीष गुप्ता, अधिशासी अभियन्ता (प०), इं० रवि कुमार अधिशासी अभियन्ता (आर०ए०पी०डी०आर०पी०), इं० अनूप सिंह, अधिशासी अभियन्ता, इं० मनोज कुमार अधिशासी अभियन्ता (रेड्स), श्री सुदीप कुमार तथा श्री राजेश कुमार आदि अधिकारी उपस्थित रहे।

Share it
Top