विद्युत विभाग ने 16 टीमें गठित कर 'मास रेड अभियान' चलाया

मेरठ। विद्युत चोरी रोकने हेतु प्रबन्ध निदेशक महोदय के निर्देशानुसार पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लि०, के जनपद शामली के अन्तर्गत कैराना/ झिंझाना क्षेत्र में विभागीय अधिकारियों की टीम एवं प्रर्वतन दल की 16 टीमें गठित कर 'मास रेड अभियान' चलाया गया। अभियान में पवन कुमार अग्रवाल, अधीक्षण अभियन्ता (रेड), अजय कुमार अपर पुलिस अधीक्षक, प्रवर्तन प०वि०वि०नि०लि०, मेरठ श्री धीरेंद्र कुमार अधिशासी अभियन्ता (रेड) के साथ-साथ विभागीय एवं प्रर्वतन दल की टीमें गठित कर पुलिस प्रशासन के सहयोग से संघन विद्युत चैकिंग की गयी। चेकिंग के दौरान कुल 502 संयोजन मौके पर चैक किए गए, जिसमें 115 संयोजनों पर सीधे विद्युत चोरी पकड़ी गई, जिसके विरूद्ध धारा 135 में एफ०आई० आर० दर्ज करायी गयी है। अभियान में 4 एफ०आई०आर० धारा 138बी के अन्र्तगत करायी गई हैं।

अभियान में 12 संयोजनों के भार मौके पर बढ़ाए गए हैं एवं 12 संयोजनों टैरिफ चेन्ज किए गए। उत्तर प्रदेश शासन की मंशा के अनुसार विद्युत चोरी पर अंकुश लगाने हेतु डिस्काम के अन्र्तगत जनपद मेरठ, बागपत, गाजियाबाद, बुलन्दशहर, हापुड़, गौतमबुद्धनगर, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, शामली, मुरादाबाद, सम्भल, अमरोहा, रामपुर, बिजनौर जनपदों में विद्युत चोरी पर प्रभावी नियन्त्रण हेतु 'मास रेड अभियान' चलाया जा रह है। उपभोक्ता विद्युत चोरी से सम्बन्धित कोई भी सूचना विद्युत हैल्पलाईन नं० 1912 एवं टोल फ्री नं० 1800-180-3002 पर तथा मोबाईल नं० 9193330020 के साथ-साथ ट्वीटर हैण्डल पर भी दे सकते है। सूचना देने वाले व्यक्ति का नाम इत्यादि पूर्णतया गोपनीय रखा जायेगा। आशुतोष निरंजन (आईएएस) प्रबन्ध निदेशक, पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लि० मेरठ, द्वारा अवगत कराया गया कि उपभोक्ता बिजली का अनधिकृत रूप से प्रयोग न करें एवं समय से अपनी विद्युत देयों को जमा कराए, जिससे कि किसी अप्रिय कार्यवाही से बचा जा सके। विद्युत चोरी एक संज्ञेय अपराध है जिसके अन्र्तगत पकड़े जाने पर अभियुक्तों को आर्थिक दण्ड के साथ-साथ कठोर दण्ड का प्रावधान है। चेकिंग के दौरान धीरेन्द्र कुमार, अधिशासी अभियन्ता (रेड) ऐ०के० वर्मा अधिशासी अभियन्ता विद्युत वितरण खण्ड-4, शामली, नेकी राम अधिशासी अभियन्ता विद्युत परि० खण्ड, शामली, ऐ०के०वर्मा अधिशासी अभियन्ता विद्युत वितरण खण्ड-2,मेरठ आदि उपस्थित रही।

Share it
Top