मेरठ: छावनी क्षेत्र में होगी ध्वस्तिकरण की कार्यवाही, 11 सितम्बर से कैंट क्षेत्र के अवैध भवनों पर गरजेगा बुलडोजर-डीएम

मेरठ: छावनी क्षेत्र में होगी ध्वस्तिकरण की कार्यवाही, 11 सितम्बर से कैंट क्षेत्र के अवैध भवनों पर गरजेगा बुलडोजर-डीएम

मेरठ। जिलाधिकारी समीर वर्मा ने छावनी क्षेत्र में अवैध निर्माण व अतिक्रमण हटाये जाने के लिए बचत भवन सभागार में कैंट बोर्ड के अधिकारियों को निर्देशित किया कि वह पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बेहतर समन्व्य बनाकर छावनी क्षेत्र के अवैध निर्माण एवं अतिक्रमण को दूर करें। वह अतिक्रमण हटाने के प्रत्येक कार्य की वीडियोंग्राफी अवश्य करायें। अधिकारी सभी विधिक कार्यो को पहले से पूर्ण कर लें ताकि ध्वस्तीकरण के कार्य में किसी भी प्रकार का व्यवधान उत्पन्न न हो सकें।
डीएम समीर वर्मा ने कैंट बोर्ड के अधिकारियों से कहा कि वह अवैध निर्माण की सूची तैयार कर उस क्षेत्र में चस्पा करें तथा भवनों को चिन्हित कर उसमें लाल स्याही से चिन्ह लगाये ताकि पता चल सके कि यह अवैध निर्माण हैं। अवैध निर्माण हटाने के लिए क्षेत्र में मनादी कराए। जिससे अवैध निर्माणकर्ता अपने अवैध निर्माण को 3 तीन दिन में स्वंय हटाये अन्यथा प्रशासन को कार्यवाही करनी होगी। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि 11 सितम्बर से छावनी क्षेत्र में ध्वस्तीकरण अभियान शुरू करें। जिसके लिये पर्याप्त पुलिस बल में महिला व पुरूष, व्रज वाहन, आर्मी आदि पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध रहेंगे।
कैंट बोर्ड सीईओ राजीव श्रीवास्तव ने बताया कि छावनी क्षेत्र में अवैध निर्माण वाले आवासीय भवनों को चिन्हित कर लिया गया है, जिनकी संख्या 140 के करीब है। उन्होंने बताया कि चिन्हित सभी भवनों की विधिक कार्यवाही को भी पूर्ण कर लिया गया है तथा सभी अवैध निर्माणकर्ताओं को पूर्व नोटिस आदि की कार्यवाही भी पूर्ण कर ली गयी है। उन्होंने बताया कि ध्वस्तिकरण के अवसर पर पर्याप्त मात्रा में जेसीबी, मैनपॉवर उपलब्ध रहेगी। बैठक मे जिलाधिकारी ने कैंट बोर्ड के अधिकारियो को निर्देशित किया कि वह शहीद स्मारक की सफाई व्यवस्था को दुरूस्त करें तथा वहां की रोड की भी शीघ्र मरम्मत करें। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी नगर मुकेश चन्द्र, पुलिस अधीक्षक नगर मान सिंह चौहान, एएसपी अंकित मित्तल, एसीएम ज्ञान प्रकाश यादव, सहायक अभियंता कैंट बोर्ड पीयूष गौतम, थानाध्यक्ष लालकुर्ती सहित प्रशासनिक एवं कैंट बोर्ड के अधिकारी उपस्थित रहे।

Share it
Top