मेरठ: डकैतों की बर्बरता का शिकार महिला की मौत

मेरठ: डकैतों की बर्बरता का शिकार महिला की मौत

मेरठ। किठौर में 12 अप्रैल को हुई डकैती की वारदात के दौरान बदमाशों की बर्बरता की शिकार महिला ने आखिरकार अस्पताल में दम तोड़ दिया। बुधवार देर षाम डाक्टरों ने महिला को मृत घोषित कर दिया। इसके बाद किठौर के लोगों और परिजनों में रोष फैल गया। सपा के पूर्व कैबिनेट मंत्री भी अस्पताल पहुंच गए और वहां परिजनों को सांत्वना दी। लोगों ने इस दौरान हंगामा भी किया। पुलिस पर लापरवाही का आरोप भी लगाया गया। पुलिस अभी तक कोई खुलासा नहीं कर पाई है।
बता दें कि किठौर के नई बस्ती मोहल्ले में 12 अप्रैल को बदमाशों ने शकील के मकान पर धावा बोला था। बदमाशों ने हथौड़े और लोहे की रॉड से शकील, उनकी पत्नी रेशमा और मां जायदा को पीटा था। सभी के सिर और चेहरे पर वार किया गया था। बदमाश लाखों के जेवर और नकदी लेकर फरार हो गए थे। तीनों को गंभीर हालत में मेरठ के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बुधवार सुबह रेशमा को वेंटीलेटर पर रखा गया और षाम के समय उनकी मौत हो गई। इस बात की जानकारी मिलने पर परिजनों और स्थानीय लोगों में रोष फैल गया। गढ़ रोड के अस्पताल पर भीड़ जमा हो गई। सपा के पूर्व कैबिनेट मंत्री शाहिद मंजूर भी पहुंच गए। शाहिद मंजूर ने परिजनों को संभाला और अधिकारियों से बातचीत की तथा इस केस में अभी तक खुलासा नहीं होने को लेकर नाराजगी जताई। मृतका का रात को ही पोस्टमार्टम कराने की मांग की गई। साथ ही परिजनों को मुआवजा देने के लिए कहा गया।

Share it
Top