मेरठ: ध्वस्तीकरण की कार्रवाई करने पहुंची आवास विकास टीम का भारी विरोध

मेरठ: ध्वस्तीकरण की कार्रवाई करने पहुंची आवास विकास टीम का भारी विरोध

मेरठ। आरक्षित वर्ग की सम्पत्ति को फर्जीवाड़ा कर हासिल करने के आरोपी व्यापारी भाजपा नेता बाबूलाल के शास्त्रीनगर सेक्टर-6 सैन्ट्रल मार्किट स्थित प्रतिष्ठानों में भूखण्ड संख्या 193 पर कमिश्नर के आदेश पर मंगलवार को आवास विकास के अधिकारी सीलिंग तथा ध्वस्तीकरण की कार्रवाई करने पहुंची। लेकिन कार्यवाही से पूर्व ही सेंट्रल मार्केट में व्यापारियों ने बाजार बंद कर आवास विकास के अधिकारियों का जमकर विरोध तथा हंगामा प्रदर्शन किया। जिसको देखते हुए सीटी मजिस्ट्रेट तथा सीओ ब्रहमपुरी भारी पुलिस बल शास्त्रीनगर सेंट्रल मार्केट पहुंचे। वहीं व्यापारियों ने कहा कि उपरोक्त मामला हाईकोर्ट में है तथा कोर्ट ने इस पर 15 दिनों का स्टे दिया है। जिसकी प्रतियां 12 अप्रैल को कमिश्नर तथा आवास विकास के अधिकारियों को भी रीसीव करा दी गई थी। जिसके बाद भी अधिकारी कोर्ट के आदेशों को नहीं मानते हुए मंगलवार को ही कार्रवाई के लिए पहुंच गए। काफी देर तक व्यापारियों का हंगामा जारी था और वह सीलिंग न होने की जिद पर अड़े हुए थे। व्यापारियों की ओर से संयुक्त व्यापार संघ के अध्यक्ष नवीन गुप्ता व भाजपा नेता कमलदत्त शर्मा आदि मौके पर पहुंचे। इस मामले में व्यापारियों ने हाईकोर्ट में मामला विचाराधीन होने की बात कही। काफी देर तक चली पुलिस व व्यापारियों के बीच जद्दोजहद के बाद आखिरकार अधिकारियों ने तीन भूखण्डों पर सील लगा दी। इस दौरान व्यापारियों ने अधिकारियों पर रिश्वत लेकर भवन निर्माण कराने का आरोप लगाया। इस दौरान भाजपा नेता कमलदत्त शर्मा की पुलिस अधिकारियों से तीखीं नोकंझोक हुई। उनका कहना था कि जब तोडऩा ही था, तो बनने ही क्यों दिया। उन्होंने कहा कि केन्द्र तथा राज्य दोनो में भाजपा की सरकार होने के बावजूद भाजपाईयों को ही प्रताडि़त किया जा रहा है। हंगामे के दौरान मौके पर भाजपा के महानगर पवन मित्तल, कोषाध्यक्ष सतीश शर्मा, संयुक्त व्यापार संघ के अध्यक्ष नवीन गुप्ता तथा भाजपा नेता संदीप रेवड़ी तथा सैन्ट्रल मार्किट के सभी व्यापारी मौजूद रहे। वहीं सुरक्षा की दृष्टि से भारी पुलिस बल वहां पर तैनात किया गया है।

Share it
Share it
Share it
Top