मेरठ: कोरी साबित हुई बंद की अफवाह, शहर भर में खुले बाजार

मेरठ: कोरी साबित हुई बंद की अफवाह, शहर भर में खुले बाजार

मेरठ। भारत बंद की अफवाह को देखते हुए शहर में जिलाधिकारी अनिल ढींगरा ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मंजिल सैनी के साथ जनपद की शान्ति एवं सुरक्षा व्यवस्था को जानने के लिए आज प्रात: 9 बजे से चौ० चरण सिंह विवि, अम्बेडकर चौक, कचहरी, बेगमपुल, आबूलेन, सदर बाजार, हनुमान चौक, सदर दाल मण्डी, जली कोठी, खैरनगर, बुढाना गेट, सुभाष बाजार, कोतवाली, लिसाड़ी गेट, मेन रोड प्रहलाद नगर, हापुड़ अडडा से शाहपीर गेट, इंदिरा चौक, इव्ज चौराहा से बच्चा पार्क, खैरनगर, घंटाघर, दिल्ली रोड, परतापुर बाईपास से होते हुए कंकरखेड़ा आदि विभिन्न क्षेंत्रों का भ्रमण किया।
बंद को लेकर शहर में कोई भी संगठन अथवा संस्था आगे नहीं आई। सोशल मीडिया में चल रहे भारत बंद के मैसेज के बाद हलचलें जरूर थी। बंद को लेकर पुलिस और प्रशासन अलर्ट है। शहर के मुख्य चौराहों से लेकर 12 पॉइंट ऊपर खुद अफसर और भारी पुलिस फोर्स तैनात रहा। सुबह से ही शहर सामान्य रहा तथा रोडवेज और सिटी बसों का संचालन भी जारी रहा। सोशल मीडिया पर वायरल हुई मंगलवार को मेरठ बंद की खबर मात्र कोरी अफवाह साबित हुई। शहर के अधिकांश बाजार खुले रहे और सड़कों पर खूब चहल-पहल रही। वहीं पूरे शहर में सुरक्षा के कड़े इंतजाम करते हुए डीएम और एसएसपी खुद शहर से लेकर देहात तक की सड़कों पर अलर्ट रहे।
बताते दें कि एससी/एसटी एक्ट में संशोधन के विरोध में बीती 2 अप्रैल को दलित संगठनों द्वारा आयोजित मेरठ बंद के दौरान जिले भर में कई हिंसक घटनाएं हुई थीं। इन घटनाओं के विरोध स्वरूप सोशल मीडिया पर आरक्षण के विरोध में 10 अप्रैल को भारत बंद का मैसेज वायरल किया जा रहा था। जिसके चलते प्रशासन अलर्ट था। डीएम अनिल ढींगरा और एसएसपी मंजिल सैनी ने पूरे जिले में फोर्स तैनात करते हुए शहरवासियों को किसी भी प्रकार की अफवाह पर ध्यान न देने की अपील की थी। मंगलवार को शहर से लेकर देहात तक सभी संवेदनशील और अतिसंवेदनशील इलाकों में पुलिस और सुरक्षाबल तैनात रहे। अधिकारियों के आश्वासन पर विश्वास करते हुए व्यापारियों ने भी बाजार खोलने से गुरेज नहीं किया, जिसके चलते बाजारों में रौनक बनी रही। हालांकि जिले के स्कूल-कॉलेज खुले रहे, लेकिन छात्रों की उपस्थिति काफी कम रही। जिलाधिकारी ने भ्रमण के दौरान पाया कि भारत बंद की अफवाओं के मददेनजर जनपद में पूर्णत: शान्ति व सौहार्द कायम है, जनजीवन रोजमर्रा की तहत संचालित है। उन्होंने आमजन से अपील करते हुए कहा कि जनपद पूर्णरूप से शान्ति व्यवस्था कायम है और इसकों बनाये रखने में सभी लोग अपना सहयोग दें। उन्होंने कहा कि हर वर्ग का दायित्व है कि वह एक दूसरे की भावनाओं का मान सम्मान करें। उन्होंने कहा कि कोई भी व्यक्ति कदापि ऐसा कोई कृत न करें जिससे जनपद का माहौल खराब हो। डीएम अनिल ढींगरा और एसएसपी मंजिल सैनी दहल शहर से लेकर देहात तक भ्रमण में जुटे रहे और लोगों को इस बात के प्रति आश्वस्त किया कि सब कुछ ठीक-ठाक है। साथ ही उपद्रव करने वालों के साथ सख्ती से निपटने का दावा करते हुए अधिकारी पल-पल की खबर पर नजर बनाए रहे। इसके अतिरिक्त जनपद को विभिन्न जोन में विभाजित कर मजिस्ट्रेटों एवं पुलिस द्वारा अपने-अपने क्षेंत्रों में भ्रमण करते हुए हर गतिविधि पर पैनी नजर रखी गयी।

Share it
Top