मेरठ: एक हफ्ते से हत्या की बात कहकर किया गुमराह

मेरठ: एक हफ्ते से हत्या की बात कहकर किया गुमराह

मेरठ। मुंडाली थाना क्षेत्र के गाव सिसौली निवासी 21 वर्षीय मोनू पुत्र शीशपाल के लापता होने का राज अभी तक नहीं खुला है। मोनू की हत्या की बात कहकर पुलिस को 6 दिन तक गुमराह करने वाले पड़ोसी गाव नगला कबूलपुर निवासी अमित सैनी को पुलिस ने शुक्रवार को मोनू के अपहरण के आरोप में गिरफ्तार किया है। साथ ही मोनू के गांव की ही महिला कुसुम पत्नी स्वर्गीय शिवकुमार को भी अपहरण का षड्यंत्र रचने के आरोप में गिरफ्तार किया है।
सूत्रों के अनुसार गांव सिसौली निवासी मोनू 19 मार्च की शाम को संदिग्ध हालात में लापता हुआ था। काफी खोजबीन के बाद भी सुराग न लग पाने पर परिजनों ने 24 मार्च को मुंडाली थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई थी। मोनू को आखरी बार अमित सैनी के साथ देखा गया था, लिहाजा परिजनों के शक के आधार पर पुलिस ने अमित को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने मोनू की हत्या की बात कह शव खेत में दफनाने का जुर्म कबूल किया था। पुलिस अधिकारियों की मौजूदगी में 25 मार्च की देर रात तक जेसीबी से खुदाई की गई लेकिन, शव बरामद नहीं हो सका। हांलाकि अगले ही दिन अमित सैनी ने पुलिस की मार से बचने के लिए झूठ बोलने की बात कह कर फिर से चौंका दिया। 6 दिन में भी पुलिस उससे कुछ नहीं उगलवा सकी। उधर सीओ किठौर हरिमोहन सिंह का कहना है कि गांव सिसौली निवासी हिस्ट्रीशीटर अनिल मोनू के लापता होने का राज खोलेगा। उसे इस मुकदमे में नामजद कर लिया गया है। अनिल पर डेढ़ दर्जन से अधिक मुकदमे दर्ज हैं। बताया जा रहा है लापता मोनू के कुसुम के साथ नाजायज संबंध थे। अमित सैनी को यह संबंध खटकते थे। सीओ का कहना है अनिल की गिरफ्तारी के बाद पूरे मामले से पर्दा उठ सकेगा।

Share it
Top