मेरठ: सम्पत्ति कुर्क व एक बकायेदार को भेजा जेल

मेरठ: सम्पत्ति कुर्क व एक बकायेदार को भेजा जेल

मेरठ। जिलाधिकारी अनिल ढींगरा ने बताया कि जनपद के बकायेदारों को अब किसी भी दशा में बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने सभी बकायेदारों को हिदायत देते हुए कहा कि या तो वह अपना बकाया जमा करा दें अन्यथा कड़ी कार्रवाई को रहे तैयार। उन्होंने बताया कि जनपद की तीनों तहसीलों के बकायेदारों पर वसूली हेतु कार्रवाई की गयी, जिसमें तहसील सरधना के एक बकायेदार की सम्पत्ति की कुर्की तथा तहसील मेरठ के बकायेदार की सम्पत्ति को सील किया गया व एक बकायेदार को जेल भेजा गया।
उन्होंने बताया कि मैसर्स एआरएसजी इन्फ्रा प्राइवेट लिमिटेड पर अंकन 66 लाख रूपये स्टाम्प देय/उपश्रमायुक्त की मांग होने के कारण तहसीलदार मेरठ द्वारा उपरोक्त को सील कर दिया गया। उन्होंने बताया कि तहसील मेरठ में आकाश पुत्र मनोज गोस्वामी निवासी जवाहरनगर मेरठ पर 2.50 लाख रूपये देय होने के कारण बाकीदार को गिरफ्तार करके जेल भेजा गया।
उन्होंने बताया कि तहसीलदार मवाना द्वारा बाकीदार भारतवीर पुत्र दरियाव सिह निवासी ग्राम नंगला काटर परगना हस्तिनापुर से 20,97,000-रूपये के सापेक्ष अंकन 4,20,000-रूपये की वसूली की गई। तहसील मेरठ के अन्तर्गत तहसीलदार मेरठ द्वारा मेरठ विकास प्राधिकरण द्वारा जारी आरसी के सापेक्ष में दैनिक वसूली अंकन 1,02,240/-रूपये व क्रमिक वसूली अंकन 2 करोड़ 77 लाख की गई। उन्होंने बताया कि मेरठ विकास प्राधिकरण द्वारा जारी आरसी के सापेक्ष आज कुल 20,00,000/-रूपये की वसूली की गयी।

Share it
Top