मेरठ: दहेज दानवों की गिरफ्तारी को पुलिस की ताबड़तोड़ दबिश

मेरठ: दहेज दानवों की गिरफ्तारी को पुलिस की ताबड़तोड़ दबिश

मेरठ। दहेज को लेकर जंधेड़ी गांव में की गई महिला की हत्या के मामले में पीडि़त परिजन पुलिस से मिले और आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की। पुलिस ने आरोपियों की गिरफ्तारी को ताबड़तोड़ दबिश दी, लेकिन सफलता नहीं मिलने पर पुलिस टीम वापस लौट गई।
सूत्रों के अनुसार ब्रहमपुरी थाना क्षेत्र अंतर्गत इंद्रानगर प्रथम निवासी मंशाराम पुत्र रामपाल ने बताया कि छह साल पहले उसकी पुत्री पायल की शादी जंधेड़ी निवासी मोनू पुत्र रमेश से हुई थी। दहेज को लेकर उसके ससुराल वाले संतुष्ट नहीं थे और अक्सर पायल के साथ मारपीट की जाती थी। बीती 23 तारीख को उसके मोबाइल पर बेटी का फोन आया और कहा कि ससुराल वाले उसके साथ मारपीट कर रहे हैं, उसे वहां से ले जाएं। 24 तारीख की शाम जब परिजन जंधेड़ी गांव में पहुंचे तो उसके ससुराल वालों ने बताया कि पायल की तबियत खराब थी, जिससे उसकी मौत हो गई और शाम करीब 3 बजे उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया है। यह सुनकर मायके वालों ने आरोप लगाए कि उसके पति, देवर बिन्नी व सास प्रभा ने मिलकर पायल की हत्या कर दी और सबूत मिटाने के लिए उसका शव जला दिया। मायके वालों की सूचना पर देर रात मवाना पुलिस गांव के शमशान घाट में पहुंची और अधिकांश जल चुके शव को बाहर निकाला। पुलिस ने उसे जांच के लिए लैब में भेज दिया है। पीडि़त परिजन थाने पहुंचे और पुलिस से आरोपियों की जल्द बरामदगी की गुहार लगाई।

Share it
Top