एसएसपी कार्यालय पर बवाल, सिपाही और युवतियों को पीटा

एसएसपी कार्यालय पर बवाल, सिपाही और युवतियों को पीटा

मेरठ। सरधना की गंगनहर में कुछ दिन पूर्व डूबे युवक के परिजनों ने सोमवार को एसएसपी कार्यालय पर जमकर बवाल किया। उन्होंने इस मामले में बयान देने आई दो युवतियों और एक सिपाही पर हमला बोल दिया। एसपी देहात राजेश कुमार ने कार्यालय से बाहर निकल कर हंगामा करने वालों को खुद मौके से खदेड़ा।
20 मार्च को ब्रह्मपुरी निवासी पवन पुत्र नत्थूसिंह अपने दोस्तों के साथ सरधना गंगनहर गया था। इसी दौरान नहाते समय सेल्फी लेने के दौरान पवन गंगनहर में डूब गया, जिसका अब तक कोई सुराग नहीं मिला है। उधर, परिवार के लोेग घटना के समय पवन के साथ मौजूद गाजियाबाद निवासी सोनू, स्वाति और सोनी नाम की युवतियों पर उसे नहर में धक्का देने का आरोप लगा रहे हैं। सोमवार को एसपी देहात राजेश कुमार ने दोनों पक्षों को बयान दर्ज कराने के लिए अपने कार्यालय बुलाया था।
पीएसी 41वीं वाहिनी गाजियाबाद में तैनात स्वाति के पिता हुकुम सिंह स्वाति, सोनी और सोनू को लेकर एसएसपी कार्यालय पहुंचे थे। इसी बीच पवन पक्ष के दर्जनों पुरूषों और महिलाओं ने हंगामा करते हुए हुकुम सिंह सहित दोनों युवतियों को खींचकर उनके साथ मारपीट शुरू कर दी। युवतियों पर हमला होते ही एसएसपी कार्यालय में अफरातफरी मच गई और पुलिसकर्मी पिट रहे लोगों को बचाने के लिए दौड़ पड़े। शोर सुनकर एसपी देहात राजेश कुमार कार्यालय से बाहर निकले। उन्होंने हंगामा कर रहे लोगों को बाहर खदेड़ा। बाद में दोनों युवतियों को पुलिस सुरक्षा में घर भेजा गया। एसपी देहात ने बताया कि हंगामा करने वालों के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।

Share it
Top