मेरठ: नौ अवैध कॉलोनियों पर चला एमडीए का महाबली, तीन फैक्ट्रियां सील

मेरठ: नौ अवैध कॉलोनियों पर चला एमडीए का महाबली, तीन फैक्ट्रियां सील

मेरठ। बिजली बम्बा बाईपास के किनारे बजौट गाव में नौ अवैध कालोनी में मकानों और फैक्ट्रियों को ध्वस्त कर दिया गया। एमडीए के दस्ते ने पीएसी व पुलिस बल की मौजूदगी में अवैध निर्माण तोड़े। इस दौरान पार्षद जुबेर के हाथापाई करने पर पुलिस द्वारा उसे भगा दिया गया। एमडीए के तीन जोन के जोनल अधिकारियों करनवीर सिंह, पीपी सिंह, मनोज सिंह व एके सिंह की अगुवाई में एमडीए का दस्ता बजौट गाव पहुंचा। विरोध को रोकने के लिए एसीएम अरविंद सिंह और सीओ अखिलेश भदौरिया भी कई थानों की पुलिस और पीएसी के साथ पहुंचे। गौरतलब है कि बजौट गाव में 50 एकड़ जमीन पर अवैध कालोनी बसा दी गई है। इसमें अलग अलग लोगों की नौ कालोनिया हैं। इसमें घर, फैक्ट्री, मदरसा व मस्जिद बना दी गई है। कई घर के साथ ही फैक्ट्रियां भी हैं। एमडीए के दस्ते में शामिल सात जेसीबी मशीनों ने जैसे ही धवस्तीकरण शुरू किया नगर निगम के पार्षद जुबेर अपने लोगों को लेकर जोनल अधिकारियों से भिड़ गए। कर्मचारियों ने रोका तो वह उनसे भी उलझ गया। अधिकारियों ने नियमानुसार कार्रवाई की बात कही तो वह जोनल अधिकारियों से हाथापाई करने पर उतारू हो गया। इस पर पुलिस ने उसकी पिटाई कर दी। मुकदमा दर्ज करने की चेतावनी मिलते ही पार्षद व उसके साथी भाग खड़े हुए। इसके बाद किसी ने विरोध नहीं किया और कार्रवाई चलती रही। इस दौरान कई मकान, फैक्ट्री ध्वस्त कर दिए गए। हांलाकि इस दौरान मस्जिद और कई मदरसे छोड़ दिए गए।

Share it
Top