मेरठ: डेढ़ माह से बाईक चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराने को काट रहा चक्कर

मेरठ: डेढ़ माह से बाईक चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराने को काट रहा चक्कर

मेरठ। कंकरखेड़ा थाना पुलिस के कारनामे षायद किसी से छुपे ना हों। लगता है कि जैसे कि इस थाने को सुर्खियों में बने रहने की आदत हो गई है। थाना पुलिस को किसी भी अधिकारी का डर इनके अन्दर नही रह गया है। सूत्रों के अनुसार अभी बीते रविवार को चौकी इंचार्ज ने छेड़छाड़ की पीड़ित छात्रा को थाने मे बैठाकर छेड़छाड़ के आरोपियों के साथ सांठगांठ कर मोटी रकम ऐंठ कर थाने मे ही सौदा कर डाला था। उसके बाद अगले ही दिन सोमवार को मढ़ियाई की पैठ से ठूसकर भरे पषुओ से भरे ट्रक पब्लिक ने पकड़ कर पुलिस को सौंपे थे। जिन्हें भी थाने से बिना कार्यवाही के छोड़ दिया गया था।
बुधवार की सुबह एक और नया मामला सामने आया है। थाना क्षेत्र के दायमपुर निवासी युवक अपनी बाईक चोरी की रिपोर्ट लिखाने के लिए डेढ माह से थाने के चक्कर काट रहा है। पीड़ित राहुल पुत्र छोटेलाल निवासी दायमपुर के अनुसार बीती 13 फरवरी को लाला महदपुर के अम्बेडकर पार्क मे षादी समारोह षामिल होने गया था। षादी समारोह से उसकी बाईक चोरी हो गयी थी। जिसके बाद पीड़ित ने 100 नम्बर पर सूचना देने के बाद उसने थाने में पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए तहरीर दी थी। इस घटना के डेढ़ माह गुजरने के बाद भी पीड़ित रोजाना थाने के चक्कर काट रहा है और थाना पुलिस कर्मियांे से अपनी बाईक चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराने की गुहार लगाता आ रहा है। लेकिन थाना पुलिस ने आज तक उसकी रिपोर्ट तक दर्ज नहीं की, जिसके बाद बुधवार को पीड़ित का दर्द छलका और वह मीडिया के सामने ही फूटफूट कर रोने लगा कहा कि मेरी बाईक चोरी हो गई और पुलिस द्वारा अभी तक कार्यवाही भी नहीं हुई है। अब पीड़ित ने इसकी षिकायत उच्चाधिकारियांे से करने की बात कही है। वहीे उपरोक्त सभी मामलों में कंकरखेड़ा थाना के इंस्पेक्टर दीपक षर्मा ने बताया कि उपरोक्त कोई भी मामला मेरे संज्ञान में नहीं हैं। जानकारी कर आवष्यक कार्यवाई की जाएगी। कोई भी पीड़ित किसी भी मामले में सीधे मुझसे आकर मिले, उसकी समस्या का तुरन्त समाधान किया जाएगा।

Share it
Top