बस ने बाइक सवार को रौंदा, परिजनों ने जाम लगाकर किया हंगामा

बस ने बाइक सवार को रौंदा, परिजनों ने जाम लगाकर किया हंगामा


मेरठ। इंचैली क्षेत्र में सड़क के गड्ढों के कारण मंगलवार को एक और जान चली गई। बस की टक्कर से बाइक सवार की मौत के बाद परिजनों ने शव को सड़क पर रखकर जाम लगा दिया। घंटों चले हंगामे के बाद पुलिस-प्रशासनिक अधिकारियों ने मुआवजे का आश्वासन देकर किसी प्रकार जाम खुलवाया।
मसूरी निवासी दयाचंद(35) पुत्र राजेन्द्र मेरठ में ठेके पर कपड़ों की सिलाई का काम करता था। मंगलवार की सुबह करीब दस बजे वह बाइक से मेरठ जा रहा था। मवाना रोड पर मसूरी भट्ठे के सामने सड़क पर गहरे गड्ढों से बचने के लिए वह गलत साइड में आ गया। इसी दौरान मेरठ की ओर से आ रही तेज रफ्तार रोडवेज बस ने बाइक सवार दयाचंद को रौंद डाला और उसकी मौके पर ही मौत हो गई। हादसे के बाद चालक बस सहित मौके से फरार हो गया। घटना की जानकारी मिलने के बाद परिजनों और सैकड़ों ग्रामीणों ने बसों को रास्ते में रोककर सड़क के बीच आड़ा-टेड़ा खड़ा करके शव को सड़क पर रखकर जाम लगा दिया। दो थानों की फोर्स को लेेकर मौके पर पहुंचे सीओ मवाना यूएन मिश्रा और सीओ सदर देहात विजय प्रकाश ने परिजनों को समझाने का प्रयास किया लेकिन वह पचास लाख के मुआवजे की मांग पर अड़ गए।
मृतक की पत्नी शशी ने बताया कि परिवार में पांच छोटी बेटियां हैं। उसने हर बेटी की परवरिश के लिए दस-दस लाख का मुआवजा दिए जाने की मांग की। लगभग दो घंटे चले हंगामे के बाद पहुंचे एसडीएम ने मुआवजे की संस्तुति का आश्वासन देकर जाम खुलवाया। पुलिस ने मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। बताते चलें घटनास्थल पर बने बड़े-बड़े गड्ढों के चलते सड़क हादसों में कई जान जा चुकी है।

Share it
Top