मेरठ: चौकी इंचार्ज ने कराया छेड़छाड़ की पीडि़त युवती का आरोपियों से थाने में बैठाकर सौदा

मेरठ। प्रदेश सरकार ने जहां महिलाओ की सुरक्षा को लेकर प्रदेश भर मे मुहिम चला रही हैं कि किसी भी प्रकार से महिला या युवती के साथ कोई अप्रिय घटना ना होने पाये । जिससे महिला प्रदेश मे अपने आपको सुरक्षित महसूस कर सके। यदि कोई महिला के साथ छेडख़ानी करता हैं तो आरोपी के खिलाफ कड़ी कार्यवाही कर तुरन्त जेल भेजा जाये। सूत्रों के अनुसार थाना कंकरखेड़ा की एक चौकी इंचार्ज ने युवती के साथ हुई छेडख़ानी के आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही ना करते हुए, आरोपी पक्ष से मिलीभगत कर किसी भी प्रकार की कार्यवाही ना करने का सौदा कर लिया। आखिर जब पुलिस ही महिलाओं को सुरक्षा की बजाए उनका आरोपियों के साथ मिलकर सौदा करेगी तो आखिर पीडि़त कहा जाएगें। मामला कंकरखेडा थाना क्षेत्र के सैनिक विहार कालोनी की रहने वाली एक छात्रा से जुड़ा है। पीडि़ता का कहना हैं कि वहीं पड़ोस के रहने वाले युवक आए दिन उसके साथ छेडख़ानी करते रहते है। रविवार की सुबह को छात्रा अपनी स्कूटी से बाजार जा रही थी, कि तभी तीन लड़को ने आकर युवती के साथ छेडख़ानी शुरू कर दी। जिसके बाद युवती ने 100 डायल पुलिस को फोन किया और पुलिस ने मौेके पर पहुचकर तीन युवको को पकड़ लिया और थाने लाकर थाना पुलिस के हवाले कर दिया। पीछे पीछे युवती ने थाने पहुचकर युवकों के खिलाफ थाने मे लिखकर तहरीर भी दी। लेकिन युवती ने आरोप लगाया चौकी इंचार्ज ने युवती को बदनामी का डर दिखाकर युवती से आपस मे कहासुनी की तहरीर लिखवा ली। जिसके बाद चौकी इंचार्ज अजय दशवाल ने तीनो युवकों के परिजनो से छोडऩे की एवज मे मोटी रकम मे सौदा भी तय कर लिया। तीनों युवकों के परिजन तब तक थाने जमे रहे। और कुछ नेताओं ने भी थाने पहुंचकर अपनी भूमिका अदा की और मेरठ मे तैनात एक दरोगा ने अपनी भूमिका तब तक निभाई जब तक कि युवकों को छोड़ नहीं दिया गया। ंयुवती के पिता आर्मी मे बताए जा रहे है। थाना इंस्पेक्टर दीपक शर्मा ने कहा है कि मेरी जानकरी मे ऐसा कोई मामला नही आया है। यदि ऐसी कोई बात हुई तो उसकी जॉच कर आरोपियों पर उचित कार्यवाही की जाएगी।

Share it
Top