मेरठ : डॉ.भीमराव आंबेडकर की प्रतिमा के मामले में आईबी की टीम ने डाला छोटा मवाना में डेरा

मेरठ : डॉ.भीमराव आंबेडकर की प्रतिमा के मामले में आईबी की टीम ने डाला छोटा मवाना में डेरा

मेरठ। छोटा मवाना में मंगलवार की रात अराजक तत्वों द्वारा तोड़ी गई डॉ.भीमराव आंबेडकर की प्रतिमा के मामले में आईबी और एलआईयू की टीम ने क्षेत्र में डेरा डालकर जांच शुरू कर दी है। सूत्रों के अनुसार प्रारंभिक जांच में मूर्ति को क्षतिग्रस्त कर दो समुदायों को आपस में भिड़ाए जाने के प्रयास की बात सामने आ रही है।
छोटा मवाना में तालाब के स्थान पर लगी बाबा साहेब डॉ. भीमराव आंबेडकर की प्रतिमा मंगलवार की रात अराजक तत्वों ने तोड़ डाली थी। बुधवार को दलितों द्वारा हंगामा करने पर मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने नई मूर्ति लगवाकर मामले को शांत किया था। उधर, इस मामले में गुरुवार को आईबी और एलआईयू की टीम ने मौके पर पहुंचकर जांच शुरू की।
सूत्रों के अनुसार, टीम की प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि मूर्ति को षडयंत्र के तहत तोड़ा गया। मूर्ति तोड़ने वालों का मकसद घटना के बाद दलितों और गैर दलितों को आपस में भिड़ाना था। लेकिन पुलिस-प्रशासन ने तत्परता दिखाते हुए बवाल को रोक लिया। आईबी और एलआईयू की टीम मूर्ति को निशाना बनाने वालों की तलाश में जुट गई है।
गुरुवार को बसपा के जिलाध्यक्ष मोहित जाटव और पूर्व विधायक योगेश वर्मा ने छोटा मवाना पहुंचकर बाबा आंबेडकर की मूर्ति पर माल्यापर्ण किया। उन्होंने घटना के पीछे भाजपा नेताओं का हाथ बताते हुए कहा कि जितनी मूर्ति तोड़ी जाएंगी, बसपा उससे दस गुनी मूर्तियां स्थापित कराने की हैसियत रखती है। वहीं घटना के बाद मौके पर फोर्स तैनात है।

Share it
Top