मेरठ: चार दिन से मौत से जूझ रही सावित्री ने तोड़ा दम...मां के शव को पोस्टमार्टम हाउस भेजकर भाई की हत्या की गवाही देने पहुंचा युवक

मेरठ: चार दिन से मौत से जूझ रही सावित्री ने तोड़ा दम...मां के शव को पोस्टमार्टम हाउस भेजकर भाई की हत्या की गवाही देने पहुंचा युवक

मेरठ। पुत्र की हत्या में गवाह सावित्री ने चार दिन अंतिम सांस ली। वहीं मां की मौत के बाद छोटा बेटा शव को पोस्टमार्टम हाउस भेजकर कचहरी में गवाही देने पहुंचा।
बतादे कि 13 जुलाई 2016 को सरूरपुर के गांव रजापुर में चेतन उर्फ भूरा की हत्या के मामले में पचास हजार का इनामी बदमाश सुमित जाट सहित कई के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी। सुमित को छोड़ अन्य सभी आरोपी जमानत पर बाहर है। इसी कड़ी में चार दिन पूर्व आरोपियों ने बेटे की हत्या में गवाह सावित्री को उस समय गोली मार दी थी, जब वह खेतों में काम कर रही थी। मंगलवार को गवाही न होने के कारण बुधवार को महिला के छोटे पुत्र मितन की गवाही थी। लेकिन सुबह उसकी मां की अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई। पुलिस की मौजूदगी में महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी भेज दिया गया। जिसके बाद मितन की गवाही हुई। इस दौरान एसपी सिटी की मौजूदगी में कचहरी में कई थानों की पुलिस फोर्स मौजूद रही। कड़ी सुरक्षा में मितन के बयान दर्ज कराए गए।

Share it
Top