मेरठ: एसएसपी कार्यालय पर हंगामा, सड़क पर लगाया जाम...एक तरफा कार्यवाही से फूटा दलितों का गुस्सा

मेरठ। देर रात परतापुर के कंचनपुर घोपला में दलितों और जाटों की बारातें आमने-सामने आने के बाद हुए संघर्ष से गांव में तनाव है। पुलिस ने गांव को छावनी में तब्दील कर दिया है। वहीं सोमवार सुबह दलित समाज के सैकड़ों लोगों ने कार्यवाही के लिए जमकर हंगामा किया। उन्होंने कार्यालय के बाहर सड़क पर जाम भी लगाया। काफी मशक्कत के बाद दलित समाज के लोग शांत हुए।
आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर सैकड़ों दलितों ने कप्तान कार्यालय का घेराव करते हुए जमकर हंगामा किया। बताते चलें कि रविवार की रात गांव में एक बारात मास्टर विक्रम सिंह के घर तो दूसरी बारात कृष्ण के घर पर आई थी। दोनों बारात रास्ते में आमने-सामने आ गई, जिसके बाद डांस को लेकर दोनों पक्षों के बाराती भिड़ गए। दोनों ओर से जमकर फायरिंग और पथराव हुआ, जिसमें कई लोग घायल हो गए। वहीं कई घरों और गाडिय़ों में तोडफ़ोड़ करते हुए आगजनी का प्रयास भी किया गया। जिसके बाद एसएसपी सहित कई थानों की फोर्स को मौके पर पहुंचकर मोर्चा संभालना पड़ा था। पुलिस ने कई लोगों को हिरासत में भी लिया है। वहीं इस मामले में पुलिस पर एक पक्षीय कार्यवाही का आरोप लगाते हुए सोमवार की सुबह दलित समाज के सैकड़ों लोगों ने एसएसपी कार्यालय पर जमकर हंगामा किया। महिलाएं कार्यालय परिसर में धरना देकर बैठ गई और जाट पक्ष पर कार्यवाही न होने तक एसएसपी कार्यालय से न हटने का ऐलान कर दिया। कप्तान के मीटिंग में होने के कारण स्टॉफ ने ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन वह टस से मस न हुए और हंगामा जारी रहा। घंटों बाद एसएसपी ने निष्पक्ष कार्यवाही का भरोसा देते हुए लोगों को शांत किया।

Share it
Top