मेरठ: दबंग प्रधान ने दलित महिलाओं के साथ की मारपीट...पुलिस पर लगाया प्रधान के दबाव में काम करने का आरोप

मेरठ: दबंग प्रधान ने दलित महिलाओं के साथ की मारपीट...पुलिस पर लगाया प्रधान के दबाव में काम करने का आरोप

मेरठ। थाना सरूरपुर क्षेत्र के गांव रामपुर मोती में प्रधान ने अपने भाइयों के साथ दबंगई दिखाते हुए दलित महिला व उसके पुत्र को रास्ते में दौड़ा दौड़ाकर लात-घूंसों व डंडों से मारपीट करके जख्मी कर दिया। यहीं नही प्रधान पर आरोप है कि उसने इस बात का विरोध करने पर दलित समाज के लोगों को जाति सूचक शब्द भी कहे और कार्रवाई करने पर जान से मारने की धमकी दी। पुलिस के इस रवैये के चलते दलित समाज के लोग रात में ही एसएसपी ऑफिस पहुँच गए और आपबीती सुनाई।
जानकारी के अनुसार मामला रामपुर मोती गांव से जुडा हुआ है। घटनाक्रम के मुताबिक गांव में प्रधान प्रवीन खंडजा निर्माण का काम करवा रहा है। इसी के चलते दलित समाज की कविता पत्नी अशोक के प्लॉट में प्रधान ने मिट्टी डलवा दी। जब कविता अपने पुत्र गौरव के साथ में प्लॉट में पशु बांधने पहुंची तो उसने प्रधान से मिट्टी डाले जाने का विरोध किया। आरोप है कि इसे लेकर प्रधान ने महिला को अपशब्द कहते हुए धमका दिया। बताया गया है कि इसके बाद जब महिला अपने पुत्र के साथ पशु बांधकर वापस लौट रही थी तो प्रधान व उसके चचेरे भाईयों निशू पुत्र जोगेंद्र व बिल्ला पुत्र यशपाल व प्रकाशी पत्नी सतपाल आदि ने दोनों मां-बेटे को पकड़ लिया। आरोप है कि उन्हें जाति सूचक शब्द कहते हुए रास्ते पर घसीट-घसीट कर लात-घूंसों व डंडों से बुरी तरह से मारा पीटा। आरोप है कि दबंगों ने उसके विरोध करने पर कपडे तक फाड़ दिये और उसे अर्धनग्न अवस्था रास्ते पर सरेआम घसीटा और भुगत लेने की धमकी देकर वहां से भगा दिया। महिलाने जब समाज के लोगों को घटना से अवगत कराया तो दलित समाज में उबाल आ गया। इसे लेकर दर्जनों की संख्या में महिलाएं व दलित समाज के पुरुष ट्रैक्टर-ट्राली में भरकर थाने पर पहुंचे और पुलिस के सामने आपबीती सुनाकर और कार्रवाई की गुहार लगाई। इसी दौरान प्रधान भी समर्थकों के साथ में थाने पर आ धमका और पुलिस के सामने दलित समाज के लोगों पर सरकारी काम रूकवाने व मारपीट करके का आरोप लगाया। एसओ ने मामले में प्रधान का पक्ष करते हुए दोनों और से तहरीर ले ली और दलित पक्ष के तीन लोगों को हवालात में डाल दिया। इसे लेकर गुस्साये दलित समाज के लोग रात मे ही एसएसपी आवास के लिये रवाना हो गये और पुलिस की करतूत की जानकारी दी। इस बारे में एसओ ऋषिपाल सिंह का कहना है कि दोनों पक्षों की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया जा रहा है।

Share it
Top