मेरठ: शराबी पिता ने बच्चों को कमरे में बंद कर घर में लगाई आग

मेरठ: शराबी पिता ने बच्चों को कमरे में बंद कर घर में लगाई आग

मेरठ। शराब का नशा इस कदर एक व्यक्ति के सिर पर चढ़कर बोला कि उसने मंगलवार दोपहर अपने तीन मासूम बच्चों को कमरे में बंद करके घर में आग लगा दी। बच्चों की चीख पुकार सुनकर मौके पर इक-ा हुए ग्रामीणों ने किसी तरह बच्चों को घर से बाहर निकाला। आग की चपेट में आने से इस दौरान एक ग्रामीण गंभीर रूप से झुलस गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने शराबी व्यक्ति को हिरासत में ले लिया। घायल व्यक्ति को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
दौराला निवासी अशोक वर्मा पुत्र ओमपाल के तीन बच्चे प्राची (12 वर्ष), कन्नू (8 वर्ष), वीशू (5 वर्ष) है। बताया गया है कि अशोक शराब पीने का आदी है और शराब के नशे में आए दिन घर में झगड़ा करता है, जिस कारण दो साल पहले उसकी पत्नी रीना भी उसे छोड़कर चली गई। अशोक के साथ फिलहाल तीनों बच्चे और 80 वर्षीय मां मूर्ति रहती है। पड़ोसियों ने बताया कि अशोक के घर की आर्थिक स्थिति बेहद कमजोर है। बच्चों की परवरिश करने के लिए मूर्ति किसी तरह आस-पड़ोसियों से मांगकर बच्चों का पेट भरती है। मंगलवार दोपहर अशोक ने शराब के नशे में तीनों बच्चों के साथ जमकर मारपीट की और बच्चों व खुद को एक कमरे में बंद करके घर में आग लगा दी।
बच्चों की चीख पुकार सुनकर मौके पर इकटठा हुए लोगों ने किसी तरह बच्चों को बचाने का प्रयास किया। आरोप है कि इस दौरान अशोक वर्मा ने पड़ोसी अशोक पाठक पर जलती हुई रजाई फ़ेंक दी, जिस कारण वह गंभीर रूप से झुलस गया। लोगों ने पुलिस को सूचना देकर बच्चों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया। पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया। अशोक पाठक के पुत्र ललित ने थाने पर तहरीर दी है।

Share it
Top