मेरठ: छेड़छाड़ से परेशान युवती के आत्मदाह मामले में नया मोड़

मेरठ: छेड़छाड़ से परेशान युवती के आत्मदाह मामले में नया मोड़

मेरठ। मंगलवार को पल्लवपुरम के पल्हैड़ा निवासी किशोरी द्वारा कप्तान कार्यालय पहुंचकर छेड़छाड़ का आरोप लगाने के मामले में नया मोड़ आ गया है। बुधवार को आरोपियों के दर्जनों परिजनों ने एसएसपी कार्यालय पर हंगामा करते हुए किशोरी के आरोपों को गलत बताया। उन्होनें किशोरी और उसके परिजनों पर वूसली के लिए निर्दोष युवकों को फंसाए जाने का आरोप लगाया है। बुधवार को पल्हैड़ा गांव के निवासी सन्नवर के साथ अन्य आरोपियो के परिवारों के दर्जनों पुरूष और महिलाएं एसएसपी कार्यालय पहुंचें। उन्होनें एसएसपी की गैरमौजूदगी में एसपी क्राइम से मिलकर आरोप लगाया कि किशोरी का परिवार पहले भी लोगों को फंसाने के लिए उनके खिलाफ झूठे मुकदमें कायम कराता रहा है। ग्रामीणों का कहना था कि बीती 1 जून 2017 को नाली को लेकर हुए मामूली विवाद के बाद किशोरी के परिजनों ने गांव के कई निर्दोष युवकों को नामजद करते हुए छेड़छाड़ की झूठी रिपोर्ट दर्ज करा दी। थानेदार और सीओ से लेकर एसपी क्राइम तक की जांच में किशोरी के आरोप गलत पाए गए। जिसके चलते उनके समर्थन में लोगों ने शपथ पत्र भी दिए थे। आरोप है कि किशोरी के परिवार वाले समझौता करने के नाम पर युवकों से दो लाख की मांग कर रहे थे। रकम न देने पर किशोरी के परिवार वाले युवकों को दुष्कर्म के मामले में जेल भिजवाने की धमकी दे रहे थे। ग्रामीणों ने पूरे प्रकरण की दोबारा जांच कराए जाने की मांग की। एसपी क्राइम ने निष्पक्ष कार्यवाही का आश्वासन दिया है।

Share it
Top