मेरठ: सुसाइड नोट लिख युवक ने की आत्महत्या...लड़की लेकर फरार युवक के भाई ने खाया जहर, पुलिस ने परिजन पकड़े तो उठाया कदम

मेरठ: सुसाइड नोट लिख युवक ने की आत्महत्या...लड़की लेकर फरार युवक के भाई ने खाया जहर, पुलिस ने परिजन पकड़े तो उठाया कदम

मेरठ। शास्त्री नगर में पुलिस से तंग आकर एक युवक ने जहर खा लिया। जहर निगलने से पहले युवक ने सुसाइड नोट भी लिखा। परिजनों ने उसे आनन-फानन में मेडिकल में भर्ती कराया, जहां उसकी हालत स्थिर बनी हुई है। परिजनों के मुताबिक युवक का भाई कॉलोनी की ही एक लड़की को लेकर नौ दिन पहले गायब हो गया था। पुलिस ने उसके परिजनों को हिरासत में लिया तो तनाव में आकर उसने यह कदम उठाया। वहीं, युवती के परिजन भी मेडिकल इमरजेंसी के बाहर हंगामा कर दिया, जिसके बाद दोनों पक्षों में जमकर मारपीट हुई। पुलिस ने एक युवक को हिरासत में ले लिया।
नौचंदी थाना क्षेत्र के शास्त्री नगर निवासी एक महिला का कहना है कि कॉलोनी का ही नन्नू नटराज ऊर्फ विजय सिंह तितोरिया व उसके दोस्त उसकी बेटी से छेड़छाड़ करते थे। उनकी हरकतों से तंग आकर बेटी को ट्यूशन छोडऩा पड़ा। 13 जनवरी को नन्नू ने उसकी बेटी का अपहरण कर लिया। लड़की के परिजनों ने बरामदगी की मांग को लेकर नौचंदी थाना व सेंट्रल मार्केट पुलिस चौकी में हंगामा किया था। इसके बाद पुलिस ने तीन दिन पहले नन्नू के पिता को हिरासत में ले लिया था। इसके अलावा पुलिस ने नन्नू के बड़े भाई मानिक तितौरिया के ससुरालियों को भी उठा लिया था। इसी बात से तनाव में आकर मानिक ने सुसाइड नोट लिखकर जहर खा लिया।
मृत युवक ने सुसाइड नोट में लिखा कि पुलिस की वजह से जॉब भी गई और मकान भी छूट गया। नौचंदी पुलिस से परेशान होकर जहर खा रहा हूं। पुलिस की वजह से मेरी जॉब चली गई और मकान मालिक ने भी निकाल दिया। मैं यह कदम इसलिए उठा रहा हूं कि पुलिस हमारा साथ नहीं दे रही। अंकित व उसके दोस्तों ने मेरे घर तोडफ़ोड़ की लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। उल्टे मेरे परिवार व ससुराल वालों को बंद कर दिया। मेरा भाई नन्नू एक लड़की के साथ लापता है। मुझे डर है कि लड़की पक्ष ने मेरे भाई की हत्या न कर दी हो। जहर खाने के बाद मानिक को मेडिकल की इमरजेंसी में भर्ती कराया गया। सूचना मिलते ही लड़की के परिवार वाले भी पहुंच गए, जिन्होंने जमकर हंगामा कर दिया। इस दौरान लड़का-लड़की के परिजनों में जमकर मारपीट हुई।

Share it
Top