मेरठ: एसएसपी के आदेश पर पांच लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज...हिंदू युवा वाहिनी का जिलाध्यक्ष बताने वाला नीरज भी शामिल

मेरठ: एसएसपी के आदेश पर पांच लोगों के खिलाफ  मुकदमा दर्ज...हिंदू युवा वाहिनी का जिलाध्यक्ष बताने वाला नीरज भी शामिल

मेरठ। दूसरे समुदाय की युवती के साथ छेड़छाड करने वाले पांच लोगों के खिलाफ एसएसपी के आदेश पर मुकदमा कायम। एक आरोपी हिन्दू युवा वाहिनी का जिलाध्यक्ष भी शामिल है। इसे लेकर पांचली गांव में पिछले एक पखवाड से दोनों समुदायों के बीच चली आ रही तनातनी के बीच माहौल गर्माता जा रहा है। बतादें की कुछ दिन पूर्व थाना सरूरपुर क्षेत्र के गांव पांचली बुजुर्ग से एक परिवार दूसरे समुदाय के लोगों के उत्पीडन से परेशान हुकर गांव से पलायन करके चला गया था। मामला सामने निकल कर आया कि पलायन करने वाले परिवार का एक युवक समुदाय विशेष की लड़की के साथ कुछ दिनों से ज्यादती कर रहा था, जिस कारण वह पीडि़ता के परिवार के विरोध के बाद गांव छोडकर चला गया था। इसे लेकर गांव के हिंदू संगठनों से तालुक रखने वाले कुछ लोगों ने इस मामले को तूल देते हुए सांप्रदायिक रंग देने का प्रयास जारी है। जबकि सच्चाई कुछ और ही थी हिंदू संगठनों से जुडे व खुद को हिंदू युवा वाहिनी का जिलाध्यक्ष बताने वाले नीरज शर्मा आदि ने मुख्यमंत्री को फैक्स करके इस पूरे फर्जी मामले से अवगत कराते हुए कार्रवाई की मांग की थी लेकिन मामले की सच्चाई छुपा ली थी। जबकि पूरे प्रकरण का पुलिस से लेकर खुफिया विभाग तक सबको पता था। लेकिन वे इसके बाद भी बाज नही आ रहे थे। इसके बाद अब गांव पांचली के ही समुदाय विशेष के निजामू पुत्र फजरअली ने एसएसपी से मिलकर गुहार लगाते हुए बताया कि गांव के हिंदू युवा वाहिनी का जिलाध्यक्ष बताने वाले नीरज शर्मा पुत्र योगराज शर्मा, रामशरण, सतीश व लोकेश पुत्रगण बल्ले व कृष्ण पुत्र श्रीचंद आदि ने उसकी बेटी पर पिछले कुछ समय से बुरी नजर रखी हुई और उसके घर से निकलते हुए गंदे कमेंट करके उसके साथ छेडछाड करते है। विरोध पर आरोपी उलटे ही उन्हें झूठे मुकदमें में फंसाने की धमकी देकर हिंदू संगठनों को बुलाकर हंगामा करने की धमकी देते है । पीडि़त की तहरीर पर एसएसपी मंजिल सैनी ने मामले की सच्चाई जानकर पांच आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा दिया है। बहरहाल इस मामले को लेकर अब मुकदमा दर्ज होने के बाद दोनों समुदायों में और तनातनी बन गई है।

Share it
Top