मेरठ: तोडफोड़ करने पर ग्रामीणों का पुलिस पर हमला...गोकशी की सूचना पर पुलिस ने दी थी दबिश, एसपी देहात ने एसओ फलावदा को लगाई फटकार

मेरठ: तोडफोड़ करने पर ग्रामीणों का पुलिस पर हमला...गोकशी की सूचना पर पुलिस ने दी थी दबिश, एसपी देहात ने एसओ फलावदा को लगाई फटकार

मेरठ। पुलिस द्वारा गोकशी की सूचना पर महिला से बदसुलूकी तथा घर में तोडफ़ोड़ किए जाने से क्षुब्ध होकर ग्रामीणों ने पुलिस पर धावा बोल दिया। ग्रामीणों ने हाथापाई करके पुलिस को दौड़ा दिया। पुलिस पर हमले की जानकारी होने पर एसपी देहात ने एसओ फलावदा को फटकार लगाते हुए गांव में भारी फोर्स भेजकर ग्रामीणों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए।
फलावदा थाना क्षेत्र के गांव नगला हरेरू में होने वाले विवाह समारोह के लिए उस्मान पुत्र हनीफ के घर शनिवार को देर शाम एक भैंस काटी गई थी। किसी ने पुलिस को गोकशी की सूचना दे दी। सूचना पर पुलिस गांव पहुंच गई तथा पुलिस ने अति उत्साह के साथ दबिश दी। मौके पर काटी गई भैंस पड़ी हुई थी।
उस्मान की पत्नी लईका ने आरोप लगाया कि पुलिस ने घर में घुसते हुए उसके साथ बदसलूकी की तथा उसे धक्का देकर गिरा दिया। आरोप है कि पुलिस ने उस्मान के घर में जमकर तोडफ़ोड़ मचाते हुए घरेलू व कीमती सामान नष्ट कर दिया। उस्मान ने यह भी आरोप लगाया कि पुलिस उसके घर में रखे 80 हजार रुपए भी उठा ले गई। दबिश के नाम पर पुलिस का तांडव, महिला संग बदसुलूकी देख कर ग्रामीणों में आक्रोश हो गया।
ग्रामीणों की भीड़ के गुस्से के आगे लाचार होकर पुलिस बैरंग लौट गई। घटना की जानकारी मिलने पर एसपी देहात राजेश कुमार ने थानाध्यक्ष फलावदा जनक सिंह चौहान को फटकार लगाई। एसपी देहात के निर्देश पर सीओ मवाना यूएन मिश्रा कई थानों की पुलिस के साथ रात को नंगला हरेरू पहुंच गए।
भारी पुलिस फोर्स गांव में दबिश देकर लौट गया। कोई पुलिस के हाथ नहीं लग पाया है। हालाकिं एसपी देहात राजेश कुमार ने गौकशी की सूचना को फर्जी माना है। लेकिन पुलिस के साथ बदसलूकी करने वालों के खिलाफ उन्होंने सख्त कार्यवाही के निर्देश दिए है।

Share it
Top