मेरठ: हत्या के बाद सड़क पर फेंका गया था मोहित का शव, परिजनों ने किया हंगामा, पुलिस ने जताई थी सड़क दुर्घटना की आशंका

मेरठ: हत्या के बाद सड़क पर फेंका गया था मोहित का शव, परिजनों ने किया हंगामा, पुलिस ने जताई थी सड़क दुर्घटना की आशंका

मेरठ। आठ दिन पूर्व शामली से मेरठ वापस लौटते समय बाइक सवार एक युवक की अज्ञात वाहन से टकराकर मौत हो जाने के मामले में अब नया मोड़ आ गया है। मृतक की पत्नी व परिजनों ने मौत का कारण सड़क दुर्घटना नहीं, बल्कि चार युवकों पर हत्या करने का आरोप लगाया। मृतक के परिजनों ने आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर थाने का घेराव करते हुए हंगामा किया। पुलिस ने मामले की जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया है।
बतादें कि चंद्रलोकपुरी, मेरठ निवासी मोहित पुत्र राजेंद्र गत 10 नवंबर को बाइक पर सवार होकर शामली गया था। देर शाम वह वहां से वापस लौट रहा था। मेरठ करनाल हाईवे पर बपारसी गांव के निकट उसका शव पड़ा देखा गया था। उसकी बाइक भी सड़क पर पड़ी हुई थी। सुबह में लोगों ने शव देखकर पुलिस को इसकी सूचना दी थी। मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच पड़ताल की तो अज्ञात वाहन द्वारा उसको टक्कर मारने की बात कही। सड़क पर गिरकर घायल होने के कारण मोहित की मौके पर ही मौत हो जाने की आशंका पुलिस ने जताई थी। पुलिस ने युवक के परिजनों को सूचना देकर बुला लिया था। परिजनों के आने पर पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर उसे पीएम के लिए भेज दिया था। मृतक के पिता राजेंद्र ने थाने में तहरीर देकर घटना की अज्ञात में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। अब मृतक की पत्नी पिंकी उपाध्याय का कहना है कि मोहित की हत्या की गई है और उसे सड़क दुर्घटना दर्शाने का प्रयास किया गया। मोहित के परिजनों ने उसी के चार दोस्तों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। थाना प्रभारी धर्मेन्द्र सिंह राठौर ने मामले की जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया है। इस अवसर पर मृतक मोहित का भाई मुकेश, चाचा सूरजमल, मामा सतपाल, नाना हरपाल आदि रहें।

Share it
Top