मेरठ: बिजली चोरी रोकने, विद्युत लाईन हानियां कम करें अधिकारी: एमडी

मेरठ: बिजली चोरी रोकने, विद्युत लाईन हानियां कम करें अधिकारी: एमडी

मेरठ। उर्जा विभाग के एमडी पवन कुमार द्वारा बागपत के अधीक्षण अभियन्ता, अधिशासी अभियन्ता एवं उपखण्ड अधिकारियों के साथ बैठक की गई। क्षेत्र में विद्युत व्यवस्था को सुदृढ़ करने के लिए अधिकारियों को अपने जनपद मुख्यालय मे रहने के निर्देश दिये, जिसका औचक निरीक्षण किया जायेगा। बैठक में एमडी द्वारा अधिकारियों को निर्देशित किया कि ग्रामीण क्षेत्रों में अधिक से अधिक कैम्प लगाकर कैम्पों की मुनादि करायें एवं उपभोक्ता तथा ग्राम प्रधानों से वार्ता कर ग्रामीण उपभोक्ताओं को लम्बित बिल जमा कराने हेतु प्रोत्साहित करें। उपभोक्ताओं को हर हाल में माह की 20 तारीख तक बिल बनाने एवं 25 तारीख तक उपलब्ध कराने के लिए निर्देश दिए। यदि माह की 25 तारीख के पश्चात बिल निर्गत किया तो सम्बन्धित अधिकारी की जिम्मेदारी निर्धारित कर कड़ी कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया। बैठक में तीन अधिशासी अभियन्ताओं और उपखण्ड अधिकारियों एवं सहायक अभियन्ता मीटर बागपत को चेतावनी देने हेतु निर्देशित किया। बैठक के एमडी द्वारा विद्युत भण्डार केन्द्र बागपत, का औचक निरीक्षण किया गया एवं ट्रांसफार्मरो के सैम्पल लैब भेजने हेतु निर्देशित किया।
समीक्षा करने पर पाया कि अनमीटर्ड से मीटर्ड किये गये संयोजनों को सिस्टम पर लेजराईजेशन नही किया। इस सम्बन्ध में प्रबन्ध निदेशक द्वारा कड़ी आपत्ति व्यक्त की गयी। एमडी द्वारा उपभोक्ताओं की फीडरवाइज टैगिंग करने के लिए भी निर्देशित किया गया। कहा कि प्रतिदिन अधिक से अधिक उपभोक्ताओं से दूरभाष पर अथवा डोर टू डोर जाकर सुनिश्चित करें कि उपभोक्ताओं को बिल प्राप्त हुआ है अथवा नहीं। सम्बन्धित अधिकारी विशेष रूप से ग्रामीण क्षेत्रों में कैम्प लगायें। कैम्प लगाने की मुनादि करायें, बकायेदार उपभोक्ताओं की सूची कैम्प लगाने से पूर्व ग्राम प्रधानों एवं उपभोक्ताओं को उपलब्ध करायें। कैम्पो में उपभोक्ताओं एवं ग्राम प्रधानों को बिल जमा कराने के लिए प्रोत्साहित करें।
बैठक में विद्युत वितरण खण्ड, बागपत की राजस्व वसूली सबसे कम पायी गयी। विद्युत लाईन हानियां अधिक होने, तथा विभिन्न कमियां पाये जाने पर बड़ौत के अधिशासी अभियन्ता को चेतावनी एवं उपखण्ड अधिकारी विद्युत वितरण को चेतावनी भी दी गई।

Share it
Top