मेरठ: बिना पहचान के नहीं कर सकेंगे मतदान: डीएम

मेरठ: बिना पहचान के नहीं कर सकेंगे मतदान: डीएम

मेरठ। जिला निर्वाचन अधिकारी, डीएम समीर वर्मा ने बताया कि नगर निकाय सामान्य निर्वाचन 2017 के लिए जनपद में 22 नवम्बर 2017 को होने वाले मतदान में प्रतिरूपण को रोकने की दृष्टि से मतदान के समय मतदाता को अपनी पहचान सिद्ध करने के लिए राज्य निर्वाचन आयोग ने 12 विकल्प दिये है।
उन्होंने कहा कि मतदान दिवस के दिन सभी मतदाता अपने मतदाता फोटो पहचान पत्र अवश्य साथ लायें तथा यदि किन्ही कारणों से ईपिक कार्ड प्रस्तुत किया जाना सम्भव न हो तो अपनी पहचान स्थापित करने के लिए 12 विकल्पों में से एक को अनिवार्य तौर पर अपने साथ लाए। समीर वर्मा ने बताया कि पासपोर्ट, ड्राइविंग लाईसेंस, राज्य व केन्द्र सरकार, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों व पब्लिक लिमिटेड कम्पनियों द्वारा अपने कर्मचारियों को जारी किए गये फोटो युक्त सेवा पहचान पत्र, बैंकों/डाकघरो द्वारा जारी किये गये फोटोयुक्त पासबुक, पैनकार्ड, आरजीआई एवं एनपीआर द्वारा जारी किये गये स्मार्ट कार्ड, मनरेगा जॉब कार्ड, श्रम मंत्रालय की योजना के अन्तर्गत जारी स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड, फोटो युक्त पेंशन दस्तावेज, निर्वाचन तंत्र द्वारा जारी प्रमाणिक फोटो मतदाता पर्ची, सांसदों, विधायकों, विधान परिषद सदस्यों को जारी किये गये सरकारी पहचान पत्र और आधार कार्ड सम्मिलित है। जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी समीर वर्मा ने बताया कि प्रवासी निर्वाचक जो अपने पासपोर्ट में विवरणों के आधार पर लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 1950 की धारा 20 क के अधीन निर्वा चक नामाविलयों में पंजीकृत है उन्हें मतदान केन्द्र में उनके केवल मूल पासपोर्ट (तथा कोई अन्य पहचान दस्तावेज नहीं) के आधार पर ही पहचाना जाएगा।

Share it
Top