मेरठ: शव लेकर एसएसपी कार्यालय पहुंचे परिजन

मेरठ। लिसाड़ीगेट क्षेत्र में बुधवार को संदिग्ध हालात में हुई महिला की मौत के बाद उसके मायके पक्ष के लोग शव को लेकर एसएसपी कार्यालय पहुंच गए। जबरदस्त हंगामे के बाद पुलिस ने आनन-फानन में आरोपी पति की गिरफ्तारी दिखाते हुए उसे जेल भेज दिया।
बताते चलें कि थानाक्षेत्र के हुंमायु नगर निवासी कपड़ा व्यापारी शाबिर ने अपनी पहली पत्नी की मौत के बाद शबनम से निकाह किया था। कुछ दिन से मकान के बंटवारे को लेकर शबनम और शाबिर का विवाद चल रहा था। दो दिन पूर्व ही शबनम घर लौटी थी। बुधवार को घर में उसका शव बरामद हुआ, उसके गले में दुपट्टे का फंदा था। पुलिस ने मामले को खुदकुशी बताते हुए शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वहीं शाबिर और उसकी पहली पत्नी के पुत्र समीर के खिलाफ शबनम को खुदकुशी के लिए उकसाने की रिपोर्ट दर्ज कर ली। गुरूवार को पोस्टमार्टम के बाद शबनम का शव मिलते ही गुस्साए मायके वालों ने उसके पांचो बच्चों के साथ एसएसपी कार्यालय का घेराव कर दिया। परिजनों ने हंगामा करते हुए आरोप लगाया कि शाबिर और समीर ने शबनम की हत्या की है और पुलिस मामले को खुदकुशी बताकर आरोपियों का बचाव कर रही है। इस दौरान उनकी पुलिस के साथ तीखी बहस और नोंकझोंक हुई। काफी देर चले हंगामे के बाद एसएसपी मंजिल सैनी दहल ने इंस्पेक्टर लिसाड़ीगेट को फटकार लगाई तो आरोपी पति शाबिर को हिरासत में ले लिया गया। इंस्पेक्टर राशिद अली का कहना है कि घटना को हत्या की धाराओं में तरमीम करते हुए आरोपी को जेल भेज दिया गया है।

Share it
Top