मेरठ: केरल की मार्क्सवादी सरकार को बर्खास्त करने की मांग

मेरठ: केरल की मार्क्सवादी सरकार को बर्खास्त करने की मांग

मेरठ। केरल में राष्ट्रवादी विचारधारा से जुड़े लोगों पर मार्क्सवादी हिंसक हमलों को अविलम्ब रोकने तथा हिंसक घटनाओं के विरोध में एवीबीपी कार्यकर्ताओं ने कमिश्ररी पर प्रदर्शन किया। उन्होंने केरल में राष्ट्रपति शासन लागू करने की मांग की।
उन्होंने कहा कि मार्क्सवादी हिंसा के खिलाफ सभी जिला केन्द्रों पर रैली, धरना, प्रदर्शन आदि कर जिला अधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन प्रेषित किये गये, जिसमें मेरठ में भी एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने कमिश्नरी पार्क में धरना-प्रदर्शन का आयोजन किया। 11 नवम्बर को केरल में लगभग 1 लाख छात्रा-छात्राएं प्रदर्शन करेंगे। साथ ही सभी इकाई व जिला केन्द्रों पर भी व्यापक प्रदर्शन होंगे। इस मौके पर वक्ताओं ने कहा कि केरल में जारी इस खूनी खेल की एबीवीपी कड़ी निंदा करता है। निर्दोष कार्यकर्ताओं के साथ हो रही इस ज्यादता को लेकर एबीवीपी ने पूरे देशभर से छात्रों को जुटाकर 11 नवम्बर को केरल में एक विशाल प्रदर्शन की योजना बनायी है। मानवाधिकार का दम भरने वाली कम्यूनिष्टों के द्वारा शासित इस राज्य में पिछले 2 साल में 21 कार्यकर्ताओं की हत्या हो चुकी है। पिछले एक साल में 100111 बलात्कार, 7200 दलितों पर अत्याचार, 17 लाख आपराधिक मुकदमें, 4399 नारकोटिक्स के मामले बताने के लिये काफी हैं।

Share it
Top