मेरठ: बीएवी इंटर कॉलेज में तोड़-फोड़

मेरठ। थाना कोतवाली अंतर्गत सुभाष बाजार में स्थित बीएवी इंटर कॉलेज में अध्यापकों ने छात्रों के साथ मिलकर प्रधनाचार्य के खिलाफ मोर्चा खोल दिया और कॉलेज परिसर में जमकर तोड़कर तोड़-फोड़ की, हंगामा बढ़ता देख प्रधनाचार्य ने थाना कोतवाली को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह मामले को शांत कराया और कॉलेज की छुट्टी कराते हुए बच्चों को घर भेज दिया गया। वहीं दोनों पक्षों ने एक दूसरे खिलाफ कोतवाली में तहरीर दी है।
दरअसल, वर्तमान समय में प्रधानाचार्य के पद पर कार्यरत डा. पीके शर्मा ने स्कूल में वर्ष 2015 में कार्यभार संभाला था। स्कूल के शिक्षकों का आरोप है कि प्रिसिंपल पीके शर्मा कभी अपनी कक्षाएं नहीं लेते। वहीं उनके कार्यभार संभालने के बाद उनकी लापरवाही और अवैध वसूली के चलते स्कूल का रिजल्ट हर वर्ष गिरता जा रहा है। प्रधानाचार्य द्वारा की जा रही अवैध वसूली के विरोध में स्कूल का स्टॉफ जिला विद्यालय निरिक्षक और स्कूल के प्रबंधन से कई बार लिखित शिकायत कर चुका है। आरोप है कि सोमवार को प्रधानाचार्य पीके शर्मा के पुत्र ने स्कूल में घुसकर क्लास ले रहे रसायन विज्ञान के प्रवक्ता सहदेव शर्मा के साथ अभद्रता करते हुए मारपीट की। वहीं प्रधानाचार्य पीके शर्मा का आरोप है कि स्कूल के कुछ शिक्षक समय से नहीं आते और बायोमैट्रिक मशीन पर थंब लगाए बिना ड्यूटी करके शासनादेश की धज्जियां उड़ा रहे हैं। इस बात का विरोध करने पर उन पर अनर्गल आरोप लगाए जा रहे हैं। उधर, मंगलवार को पूरा मामला पता चलने पर शि़क्षकों में रोष व्याप्त हो गया। स्कूल के सभी शिक्षकों ने हंगामा करते हुए क्लास रूम में काम ठप कर दिया और प्रधानाचार्य कार्यालय के बाहर धरना देकर बैठ गए। मामले की जानकारी मिलने पर स्कूल के छात्र भी शिक्षकों के समर्थन में उतर गए और स्कूल में हंगामा शुरू कर दिया। प्रधानाचार्य कार्यालय के बाहर गमले और फर्नीचर आदि तोड़ते हुए छात्रों ने प्रधानाचार्य के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। मामला हाथ से निकलता देख प्रधानाचार्य ने पुलिस को सूचना दे दी। जिसके बाद कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस के पहुंचने से पहले हंगामा करने वाले छात्र फरार हो गए। उधर, प्रधानाचार्य ने स्कूल के कुछ शिक्षको पर छात्रों को उकसा कर तोडफ़ोड़ कराए जाने का आरोप लगाते हुए तहरीर दी है। उन्होंने स्कूल की प्रबंध समिति पर भी गंभीर आरोप लगाए हैं। वहीं शिक्षकों ने प्रधानाचार्य पर अवैध वसूली और स्टॉफ के साथ अभद्रता व मारपीट का आरोप लगाते हुए तहरीर दी है। स्कूल में पुलिस तैनात कर दी गई है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

Share it
Top