मेरठ: वारंटियो की 'घूस' से मनी कई थानेदारों की दीवाली

मेरठ: वारंटियो की घूस से मनी कई थानेदारों की दीवाली

मेरठ। जिले की कप्तान मंजिल सैनी दहल ने अपराधियों और वारंटियो के खिलाफ अभियान छेड़ते हुए सभी थानेदारों को ऐसे लोगों को सींखचों की पीछे पहुंचाने की जिम्मेदारी सौंपी। लेकिन कुछ थानेदारों ने इस काम में भी कमाई का जरिया ढूंढ निकाला। त्यौहार के मौके पर वारंटियों के घरों पर जाकर उन्हें धमकाया और जमकर वसूली की।
मेरठ महानगर थाना नौचंदी, टीपी नगर और रेलवे रोड सहित शहर के बहुत से थानों के ऐसे कई मामले में प्रकाश में आए हैं। दरअसल, जिन लोगों के किसी मामले में गैर जमानती वारंट जारी हैं। उनके घरों पर जाकर त्यौहार के मौके पर कचहरी में अवकाश होने के कारण पुलिस द्वारा उन्हें जेल भेजने की धमकी देकर मोटी वसूली की गई। वहीं कई वारंटी ऐसे भी थे, जिनकी विपक्षी पार्टियां पुलिस के पीछे-पीछे उनके वारंट लेकर घूमती रहीं।
लेकिन पुलिस ने वारंटियो से वसूली कर उन्हें थाने से छोड़ दिया। यह हालत एसएसपी मंजिल सैनी दहल के वारंटियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के फरमान के बाद रही। जनपद के कई थानेदार कप्तान के आदेश की धज्जियां उड़ाने से बाज न आकर अब तक वारंटियों से वसूली में जुटे हैं। एसएसपी ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए एसपी सिटी मान सिंह चैहान को जांच सौंप दी है।

Share it
Top