मेरठ: सहायक अध्यापक बने जज...अनूसूचित वर्ग का बेटा जज की कुर्सी पर बैठकर करेगा न्याय

मेरठ: सहायक अध्यापक बने जज...अनूसूचित वर्ग का बेटा जज की कुर्सी पर बैठकर करेगा न्याय

मेरठ। कंकरखेडा उत्तर प्रदेश पीसीएसजे जूनियर सिविल जज की परीक्षा मे एक सहायक अध्यापक ने बाजी मार कर सफलता हासिल की है। जो कानून की पढ़ाई करने के बाद लाल बहादुर इण्टर कॉलिज सदर में बतौर सहायक अध्यापक रहते हुए 189 रैंक हासिल कर पीसीएसजे मे सफलता हासिल की।
मंगलपुरी निवासी देवीन्द्र कुमार पुत्र जयपाल सिंह मूल निवासी भराला दौराला अनूसुचित वर्ग ने दूसरे प्रयास मे सफलता हासिल की है। इन्होंने मेरठ कॉलिज से प्रथम श्रेणी मे एलएलबी और द्वितीय श्रेणी से एलएलएम किया था। देवेन्द्र कुमार ने बताया कि उसका उद्श्य हर गरीब वर्ग जो न्याय से वंचित रहे उनको न्याय दिलाने का रहेगा, यही मेरी पहली प्राथमिकता होगी। जज बनने के बाद परिवार और दोस्तो का बधाई देने का तांता लगा रहा है। घर मे खुशी का महौल है। उनकी पत्नि पिंकी और दोस्त नरेन्द्र राणा ने हर कदम पर पूरा सहयोग देकर मनोबल नही टूटने दिया। घर मे बेटे कार्तिक, अर्नव और बेटी दिवांसी और दोस्तों ने मिठाई खिलाकर बधाई दी।

Share it
Top