मेरठ: हत्या के मुकदमें में गवाही को लेकर पथराव फायरिंग, कई घायल

मेरठ: हत्या के मुकदमें में गवाही को लेकर पथराव फायरिंग, कई घायल

मेरठ। हत्या के मुकदमें में गवाही न देने के विरोध में बीती देर शाम खिर्वा गांव में दो पक्षों में पथराव व फायरिंग हो गई। जिसकी चपेट में आकर दोनों पक्षों के आधा दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह मामले को संभाला और मौके पर मिले घायलों को उपचार के लिए तुरंत सरधना सीएचसी भेजा। घटना को लेकर दोनों पक्षों के लोगों में तनाव का माहौल है। जिसके चलते गांव में पुलिस तैनात की गई है। बतादें कि दो वर्ष पूर्व सरधना थानाक्षेत्र के खिर्वा गांव में मुन्नु की हत्या हो गई थी। जिसका मुकदमा सपा नेता शाहअब्बास ने थाने में दर्ज कराया था। मंगलवार को उक्त मुकदमें में गवाही होनी थी। बाकी लोग गवाही देने चले गए, लेकिन अब्बास नहीं गया। मृतक मुन्नु के भाई नय्यर ने इसका विरोध किया तो उसने गवाही देने से इंकार कर दिया। इसी बात को लेकर दोनों पक्षों में देर शाम कहासुनी हो गई। जोकि कुछ ही देर बाद बड़े संघर्ष में बदल गई। आरोप है कि अब्बास पक्ष के लोगों ने पथराव व फायरिंग कर दी। जिसकी चपेट में आकर एक पक्ष से रिजवान पुत्र रजि मोहम्मद, लुबना पुत्री नजत अब्बास, कमर फातमा पत्नी फतेह मोहम्मद, नईम पुत्र शब्बु व नय्यर पुत्र फतेह मोहम्मद आदि घायल हो गए। घटना की सूचना मिलते ही थाना पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने सभी घायलों को उपचार के लिए सीएचसी में भर्ती कराया। एसओ धर्मेंद्र सिंह राठौर ने आरोपी पक्ष के लोगों की धरपकड़ के लिए दबिश दी, लेकिन वह हत्थे नहीं चढ़े। इस मामले में नय्यर की और से तहरीर देते हुए कार्यवाई की मांग की गई है। एसओ धर्मेन्द्र राठोर ने जाँच कर कार्यवाई का आश्वासन दिया है।

Share it
Top