मेरठ में पांच वर्ष की बच्ची से दुष्कर्म, महिलाओं ने थाने में घुसकर पीटा तो भाग खड़े हुए पुलिसवाले

मेरठ। ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र के माधवपुरम में पडौस की बच्ची से दुष्कर्म के बाद आरोपी की गिरफ्तारी को लेकर सैकड़ों लोगों की भीड़ ब्रह्मपुरी थाने पहुंच गई। एक महिला ने आरोप लगाया कि मुकेश नाम के सिपाही ने उसे थप्पड़ मारा है। जिसके बाद महिलाएं हंगामा करते हुए पुलिस से भिड़ गई। भीड़ सिपाही मुकेश को खींचकर गेट तक ले आई।
माधवपुरम सेक्टर तीन का रहने वाला आरोपी प्रशांत चौधरी पुत्र सुरेश चौधरी ने पडौस की पांच वर्षीय बच्ची से दुष्कर्म किया। पीडि़त बच्ची खून से लथपथ जब घर पहुंची तो उसने अपने पिता को सारी कहानी बता दी। पीडि़त पक्ष ने पुलिस को सूचना दी। बच्ची को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। आरोप है कि पुलिस कार्यवाही करने के बजाए उल्टा आरोपी के घर चाय पीने लग गई। जिसके बाद पीडि़त पक्ष व क्षेत्रीय लोगों ने हंगामा कर दिया। इस दौरान सिपाही मुकेश ने एक महिला को थप्पड़ मार दिया। जिसके बाद क्षेत्रीय लोग उग्र हो गए और सिपाहीं की धुनाई कर दी। अन्य पुलिसकर्मियों ने सिपाही को छुड़ाने का प्रयास किया तो महिलाओं ने उनके साथ हाथापाई करते हुए पत्थर हाथ में उठा लिये। पुलिसकर्मी जान बचाकर थाने में घुस गए। थाने में अराजकता का माहौल बन गया। इसकी जानकारी पर सीओ ब्रह्मपुरी अखिलेश भदौरिया थाने में पहुंचे। सीओ ने थाने पहुंचते ही भीड़ पर लाठीचार्ज करा दिया। लोगों में अफरा-तफरी मच गई। ब्रह्मपुरी व माधवपुरम के पार्षद मनोज कुमार समेत कई भाजपा के नेता भी थाने पहुंच गए और आरोपी के खिलाफ कार्यवाही की मांग की है। पुलिस के लाठीचार्ज होने पर 15 महिलाएं ब्रह्मपुरी थाने के गेट पर धरना देकर बैठ गई। पार्षद और भाजपा के नेताओं से महिलाओं ने शिकायत की। आरोप था कि पहले सिपाही ने उनको माधवपुरम में पीटा और अब थाने में लाठीचार्ज हुआ। नेताओं ने हंगामा कर पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठाए। बाद में सीओ ने महिलाओं को आश्वासन दिया कि जिस सिपाही ने उनके साथ मारपीट की है, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। वहीं आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। आरोपी को थाने में बंद कर दिया गया है।
एक दरोगा आरोपी के घर पर अक्सर रहता है। उक्त दरोगा पहले ब्रह्मपुरी थाने में ही तैनात था। जिसके चलते प्रशांत लोगों पर रौब चलाता है। वह पहले भी घिनौनी वारदात कर चुका है। पुलिस ने आरोपी पर दुष्कर्म और पास्को एक्ट की धारा लगाकर कार्रवाई की है।

Share it
Top