मेरठ: पत्नी से मामूली विवाद में मासूम पुत्री को उतारा मौत के घाट

मेरठ: पत्नी से मामूली विवाद में मासूम पुत्री को उतारा मौत के घाट

मेरठ। जिले में लगातार रिश्ते को तार-तार करने वाली घटनाएं सामने आ रहा है। गुरूवार को एक पिता ने अपने 17 वर्षीय पुत्र की गला रेंतकर हत्या कर दी, वहीं एक युवक ने मामली विवाद में अपनी 7 माह की मासूम पुत्री को ही मौत के घाट उतार दिया। जहां एक ओर नवरात्र में लोग देवी को मनाने के लिए पूजा-अर्चना और व्रत कर रहे हैं। वहीं दूसरी ओर इंचौली थाना क्षेत्र में पत्नी से हुए मामूली विवाद में एक पिता ने अपनी सात माह की मासूम पुत्री का गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।
दरअसल, मुल्हैड़ा निवासी संप्रदाय विशेष की युवती रानी ने चार वर्ष पूर्व फलावदा निवासी ब्रजपाल नाम युवक से प्रेम विवाह किया था। इसी दौरान उसके फलावदा में एक झोलाछाप के क्लीनिक पर कंपाउंडरी करने वाले कृष्णा से प्रेम संबंध हो गए। जिसके बाद वह अपने दो बच्चों को पति ब्रजपाल के पास छोड़कर कृष्णा के साथ रहने लगी। कृष्णा और रानी सैनी में बिजेन्द्र के मकान में किराए पर रहते थे और खेतों को बटाई पर लेकर मजदूरी करते थे। कई दिनों से दोनों के बीच विवाद चल रहा था। गुरूवार की रात भी दोनों के बीच विवाद हुआ, जिसके बाद रानी अपनी सात माह की पुत्री कशिश को कृष्णा के पास छोड़कर अपने पड़ौसी कुलदीप के घर चली गई। सुबह वह वापस लौटी तो घर का दरवाजा बाहर से बंद था और कृष्णा व कशिश गायब थे। ग्रामीणों ने दोनों की तलाश शुरू की तो खेतों में काम कर रहे कुछ ग्रामीणों ने बताया कि सुबह जंगल में एक सात माह की बच्ची के शव को कुत्ते नोंच रहे थे, जिसे उन्होंने गड्ढा करके दबा दिया। गड्ढा खोदने पर कशिश का शव देखते ही उसकी मां रानी पछाड़ खाकर गिर गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने गांव में घूम रहे कृष्णा को दबोच लिया। उसने बताया कि गुस्से में आकर उसने कशिश की गला दबाकर हत्या कर दी और शव को जंगल में फेंक दिया। रानी की तहरीर पर मुकदमा दर्ज करते हुए पुलिस ने आरोपी कृष्णा को गिरफ्तार कर लिया है। बच्ची के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। उधर, घटना के बाद गांव में मातम पसरा है।
अपनी पुत्री को नहीं करता था पसंद-
एक माह पहले कृष्णा बच्ची को सड़क पर छोड़ आया था, शायद कृष्ण को बेटी पसंद ही नहीं थी। एक महीना पहले वह कशिश को लावड़ के अंधावली मार्ग पर छोड़कर फरार हो गया था। पुलिस को यह बच्ची लावारिस हालत में मिली थी। उसे तलाशते हुए पहुंची रानी बच्ची को सकुशल घर लेकर आई थी।

Share it
Top