आमजन को मिले सरकारी योजनाओं का लाभ: संगीत सोम

आमजन को मिले सरकारी योजनाओं का लाभ: संगीत सोम

मेरठ। सरधना के नानू गांव में चिकित्सक के यहाँ पड़ी डकैती को 29 दिन बीत गए है जिसके बाद से अभी तक पुलिस के हाथ खाली है। पुलिस घटना को अंजाम देने वाले किसी भी बदमाश का सुराग तक लगाने में नाकाम है। जिसके चलते चिकित्सक का परिवार दहशत के साए में जी रहा है। चिकित्सक से मांगी गई 50 लाख की रंगदारी की तारीख में अब मात्र एक दिन बचा है। धमकी की तारीख नजदीक आ रही है, उसके परिवार की नींद हराम हो रही है। इतनी बड़ी घटना के बाद पुलिस चिकित्सक के परिवार की सुरक्षा का जिम्मा बिना हथियार के एक होमगार्ड को दिया हुआ है। चिकित्सक इस संबंध में पुलिस के चक्कर काट रहा है। थाना पुलिस ने बार-बार थाने आने पर चिकित्सक को ही जेल भेजने की धमकी दे डाली है। पुलिस का कहना है की जब कुछ हो जायेगा उसके बाद देखेंगे। पुलिस के इस रवैये के चलते पीडि़त ने कमिश्नर, आईजी व डीआईजी का दरवाजा खटखटाया है।
बतादें की मेरठ करनाल मार्ग पर नानू गांव में डा. ब्रिजेश गुप्ता पुत्र अम्बे प्रसाद गुप्ता के घर में गत 21 अगस्त की रात आधा दर्जन से अधिक नकाब पोश बदमाशों ने परिजनों को बंधक बनाकर लाखों की डकैती डाली थी। बदमाश लगभग आठ लाख की नगदी व चार लाख के सोने-चांदी के आभूषण लूटकर ले गए थे। इसके अलावा बदमाशो ने पचास के एक नोट पर डॉ बृजेश के हस्ताक्षर कराए थे और कहा था की इस नोट को आगामी 21 सितंबर तक उनका एक साथी लेकर आएगा, जिसको 50 लाख रूपये रंगदारी के रूप में देने है। 50 लाख न देने पर उसके पुत्र विशाल व पुत्री ज्योति की हत्या करने की चेतावनी भी दी थी।
घटना के बाद पुलिस ने चिकित्सक के परिवार को सुरक्षा के नाम पर मात्र होमगार्ड दिया है वो भी बिना हथियार का है। अब जैसे जैसे बदमाशों की धमकी भरी तारीख नजदीक आर ही है वैसे ही चिकित्सक के परिवार की बेचौनी बढ़ रही ह। जिसके चलते चिकित्सक का परिवार सुरक्षा मुहैया कराये जाने के लिए सरधना एसओ से मिला।
चिकित्सक के मुताबिक़ एसओ धर्मेन्द्र सिंह राठौर ने बार बार-थाने आने पर जेल भेजने की धमकी दे डाली। इसके अलावा जवाब दिया की जब कोई घटना हो जाएगी उसके बाद देखेंगे। दहशतजदा चिकित्सक अब कमिश्नर, आईजी, डीआईजी के दरवाजे पर पहुंचा लेकिन उक्त अधिकारी नहीं मिल सके। बताया गया की उक्त अधिकारी किसी मीटिंग में लखनऊ गए है। पीडि़त अब मुख्य मंत्री को पत्र लिखकर घटना से अवगत कराएगा और सुरक्षा की मांग करेगा।

Share it
Top