मेरठ: स्वास्थ्य सेवा का लाभ देने में लापरवाही न बरते चिकित्सक: महानिदेशक

मेरठ: स्वास्थ्य सेवा का लाभ देने में लापरवाही न बरते चिकित्सक: महानिदेशक

मेरठ। प्रदेश के महानिदेशक, राज्य प्रशासनिक एवं प्रबन्धक अकादमी जनपद के नोडल अधिकारी कुमार अरविन्द सिंह देव ने पुलिस लाईन में निर्माणाधीन पुलिस बैरक के निर्माण कार्यों की गुणवत्ता एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पचपेड़ा व थाना भावनपुर के निरीक्षण के दौरान वहां की कार्यप्रणाली तथा आमजन को दी जा रही शासकीय सुविधाओं का बारीकी से जायजा लिया। उन्होंने सम्बंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि वह आमजन की भलाई हेतु दी जा रही सुविधाओं का लाभ उन्हें समय से दें तथा उनको सुलभ न्याय की पूर्ण व्यवस्था सुनिश्चित करें, जिसके लिये शासन कटिबद्ध है। सरकार के सख्त निर्देष हैं कि पुलिस अधिकारी दोषियों के साथ सख्ती से पेश आयें तथा निर्दोषों का उत्पीडऩ किसी भी सूरत में न होने दें। महानिदेशक ने सबसे पहले पुलिस लाईन मे निमार्णाधीन पुलिस बैरक का निरीक्षण करते हुए उसकी गुणवत्ता एवं कार्य की स्थिति का जायजा लेते हुए निर्माण करने वाली कार्यदायी संस्था को निर्देशित किया कि वे निर्माण को निर्धारित समय में अवश्य पूर्ण करें तथा निर्माण में उपयोग की जाने वाली सामग्री मानकों के अनुरूप ही हो। सम्बंधित कार्यदायी संस्था ने बताया कि बैरक का निर्माण माह अक्टूबर 2०18 तक अवश्य पूर्ण कर लिया जायेगा। महानिदेशक ने स्वास्थ्य सेवाओं को धरातल पर परखने के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पचपेड़ा का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने इमरजेन्सी कक्ष, पैथोलॉजी लेब, बाल रोग कक्ष, दवा वितरण कक्ष व पूछताछ काउन्टर पर उपस्थित मरीजों से रूबरू होकर स्वास्थ्य केन्द्र पर दी जा रही सुविधाओं की जानकारी ली। उन्होंने दवाओं की उपलब्धता व कमी की भी जानकारी ली जिस पर प्रभारी चिकित्साधिकारी ने सभी आवश्यक दवायें उपलब्ध होने की जानकारी दी। उन्होंने निरीक्षण के दौरान स्वास्थ्य केन्द्र पर सफाई व्यवस्था को और बेहतर करने के प्रभारी चिकित्साधिकारी को निर्देश दिये।
इसके बाद महानिदेशक, राज्य प्रशासनिक एवं प्रबन्धक अकादमी शासन जनपद के नोडल अधिकारी कुमार अरविन्द सिंह देव ने थाना भावनपुर का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने थाने में माल खाने, कैद खाना, सहित प्रत्येक कक्ष को देखा। उन्होंने थानाध्यक्ष को निर्देशित किया कि वह एचएस रजिस्टर के अनुसार दर्ज लोगो पर पैनी नजर रखें। उन्होंने पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे थानों का वार्षिक निरीक्षण भी नियमित कर उसकी आख्या उच्च अधिकारी को प्रेषित करें। कुमार अरविन्द सिंह देव ने कहा कि अधिकारी यह सुनिश्चित करें अधिक से अधिक समस्याओं का निस्तारण थाना समाधान दिवस में ही हो, इसके लिये सभी थानाध्यक्षों को निर्देशित किया जाये कि वे अपने सूचना तंत्रों को सक्र्रिय रखें और यदि कोई भी असामाजिक तत्व क्षेत्र का माहौल खराब करने की कोशिश करता है तो उसके विरूद्ध दण्डात्मक कार्यवाही अमल में लाये।
इस अवसर पर जिलाधिकारी समीर वर्मा, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मंजिल सैनी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. राजकुमार, पुलिस अधीक्षक देहात राजेश कुमार, पीडीडीआरडीए भानू प्रताप सिंह, जिला अर्थ एंव संख्या अधिकारी सहित सम्बंधित स्वास्थ्य व पुलिस अधिकारी उपस्थित रहे।

Share it
Top