मेरठ: बांग्लादेशी युवक को पुलिस ने जेल भेजा

मेरठ: बांग्लादेशी युवक को पुलिस ने जेल भेजा

मेरठ। फलावदा कस्बे मे एक दशक से रह रहे संदिग्ध बंगलादेशी को एसटीएफ ने गिरफ्तार कर पुलिस को सौंपते हुए मुकदमा दर्ज कराया है। गिरफ्तार व्यक्ति को पुलिस ने सोमवार को न्यायालय मे पेश किया जहां उसे जेल भेज दिया है। उसके पास से कई फर्जी आईडी भी बरामद हुई है।
फलावदा कस्बे मे करीब एक दशक से फर्जी तरीके से रह रहे बंगलादेशी अबुहन्नान उर्फ अबुहेना पुत्र अब्दुल हन्नान की किसी को भनक तक नही लगी। बताया गया है कि अबुहेना बंग्लादेश से एक दशक पूर्व किसी तरह घर से भागकर भारत आ गया था। काफी समय तक अपनी पहचान छुपाकर इधर-उधर कई राज्यों मे नौकरी करते हुए छुपता रहा। करीब दस वर्ष पूर्व फलावदा कस्बे से फरार हुई शबाना से उसकी मुलाकात हो गयी ओर वह उसे लेकर लुधियाना पंजाब चला गया। शबाना को इसने अपने प्रेमजाल मे फंसाकर उससे शादी कर ली। शादी के कुछ ही दिन बाद वे दोनो फलावदा आकर किराये के मकान मे रहने लगे। अबुहेना खुश मिजाज व अपने अच्छे व्यवहार से कस्बे के लोगों का उसने मन जीत लिया। फलावदा की लड़की से शादी होने के कारण लोगों का उस पर शक नही गया और वह कस्बे में ही इधर-उधर किराये के मकान मे रहकर उसने अपनी आईडी आधार कार्ड, पैन कार्ड, पहचान पत्र, बैंक खाता व पासपोर्ट हासिल कर लिया। 12 जून को उसने उक्त पासपोर्ट से उसने बंग्लादेश का वीजा प्राप्त किया और 13 अगस्त को ही बंगलादेश से वह वापिस लौटा था। एसटीएफ व एलआईयू को मुखबिर द्वारा सूचना मिली कि एक संदिग्ध बंगलादेशी फलावदा में ही डेरा जमाये हुए है। रविवार को कही जाने की फिराक मे पैट्रोल पम्प के समीप से गुजरेगा। एसटीएफ व एलआईयू की टीमो ने उसे धर दबोचा। उसके पास से फर्जी तरीके से बनायी हुई आईडी भी बरामद की है। उसके खिलाफ फलावदा थाने मे 420, 467, 468 पासपोर्ट अधिनियम की धारा 3 व धारा 14 के अंतर्गत मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया है।

Share it
Top