मेरठ: जहरीली शराब से युवक की मौत, परिजनों ने की अवैध शराब कारोबारियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग

मेरठ: जहरीली शराब से युवक की मौत, परिजनों ने की अवैध शराब कारोबारियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग

मेरठ। प्रदेश में सरकार परिवर्तन होने के बाद ही सुबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को आदेश देकर कहा था कि क्षेत्र मे हो रहे अवैध धंधो पर नकेल कसकर बन्द कराने का आदेश दिया था। क्षेत्र मे कोई भी अवैध करोबार ना होने देने के साथ जिले के कप्तानों को आदेश देकर चेताया भी था और कप्तान ने सभी थानेदारो को अपने क्षेत्रों से अवैध करोबार को खत्म करने का अभियान चलाकर बन्द कराने की चेतावनी दी थी कि यदि किसी भी थानेदार के क्षेत्र मे कोई भी अवैध करोबार होता पाया गया या शिकायत मिली तो कार्यवाही तय है। कंकरखेडा पुलिस किसी भी अधिकारी के आदेश का पालन करना नही चाहती है। क्योंकि पुरे क्षेत्र मे पुलिस की नाक के नीचे अवैध करोबार बड़े धडल्ले से चल रहा है। पुलिस योगी के आदेष की खुल कर धज्जियां उड़ा रही है।
कंकरखेड़ा क्षेत्र के रोहटा रोड जवाहर नगर कालोनी के रहने वाले 20 वर्षीय बिटटू कुमार पुत्र अशोक कुमार को 14 अगस्त को नशीला पदार्थ खाने की शिकायत को लेकर जिला अस्पताल मे भर्ती कराया था। अस्पताल मे बिट्टू ने उपचार के दौरान रविवार की सुबह अस्पताल मे दम तोड़ दिया। युवक की मौत की सूचना परिजनों ने पुलिस को दी, पुलिस ने मौके पर पहुंचकर युवक का पंचनामा भरकर पोस्पार्टम को भेज दिया। जिसके बाद बिट्टू की मां साधना और परिजनों ने कंकरखेडा थाने पहुंचकर क्षेत्र मे हो रहा जहरीली शराब के करोबार को बन्द कराने को लेकर हंगामा किया और आरोप लगाया कि पुलिस की मिलीभगत से कर्नल की कोठी के पास मन्दिर वाली गली जवाहरपुरी में हरियाणा मार्का की जहरीली शराब बेची जा रही है, जिस कारण उसके पुत्र की मौत हुई है। उन्होंने कहा कि अगर इसको जल्द से जल्द बन्द नही कराया गया तो वह इसकी शिकायत मुख्यमंत्री से करेंगे। यहीं नहीं क्षेत्र के बादाम मंडी निवासी गौरव अग्रवाल पुत्र जय किशन ने 13 अगस्त को नशीले पदार्थ का सेवन किया था, जिसकों लोकप्रिय अस्पताल मे भर्ती कराया गया था। उपचार के दौरान उसकी भी मौत हो गयी। जिसके बाद से क्षेत्र के लोगों में रोष व्यापत है। थाना प्रभारी प्रदीप त्रिपाटी ने बताया की दोनों मामले संज्ञान में आये है। युवके के पोस्टमार्टम कराये जा रहे है। जो सामने आएगा उसी के आधार पर कार्यवाही की जाएगी। वीरसैन, दौलतराम, रामचन्द्र, यादव, रामदास, सुनील, पम्मी, रामसिंह आदि मौजूद रहे।

Share it
Top