मेरठ: दूसरी क्लास की बच्ची से स्कूल के टॉयलेट में दरिन्दगी

मेरठ: दूसरी क्लास की बच्ची से स्कूल के टॉयलेट में दरिन्दगी

मेरठ। अज्ञात दरिन्दें ने स्कूल में एक दूसरी क्लास की बच्ची के साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। दुष्कर्म के बाद बच्ची खून से लतपथ घर पहुंची तो परिजनों के होश उड़ गए। जिसके बाद परिजनों व क्षेत्रीय लोगों ने स्कूल पहुंचकर जमकर हंगामा किया। स्कूल में तोड़-फोड़ की गई। आगजनी भी हुई। सूचना पर एसपी सिटी, एडीएम सिटी मौके पर पहुंचे और हंगामा कर रहे लोगों को जल्द आरोपी को गिरफ्तार करने का आश्वासन देकर शांत किया। बच्ची को मेडिकल के लिए जिला अस्पताल भेजा गया है। वहीं घटना के बाद से लोगों में रोष व्याप्त है। आरोपी का अभी तक पता नहीं लग सका है। बच्ची का कहना है कि वह सामने आने पर आरोपी को पहचान लेगी। पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। आरोपी की तलाश जारी है।
नौंचदी थानाक्षेत्र के फूलबाग कॉलोनी पुलिस चौकी के पास डेफोडिल इंटर कॉलेज है। बुधवार दोपहर को स्कूल की छुट्टी के बाद दूसरी क्लास की सात वर्षीय बच्ची रोते हुए अपनी घर पर पहुंची। परिजनों ने देखा कि उसके खून निकल रहा है। जिसके बाद परिजनों के होश उड़ गए। बच्ची ने परिजनों को बताया कि स्कूल में एक लड़के ने टॉयलेट में उसके साथ गलत कार्य किया है। जिसके बाद परिजनों में रोष फैल गया। परिजन व क्षेत्रीय सैकड़ों लोगों ने स्कूल पहुंचकर प्रधानाचार्य मंजू व उप प्रधानाचार्य लता के साथ अभ्रदता करते हुए आरोपी के बारे में जानकारी प्राप्त करने का प्रयास किया। इस दौरान गुस्साए लोगों ने स्कूल में तोड़-फोड़ व आगजनी कर दी। जिसकी सूचना मिलते ही एसपी सिटी व एडीएम सिटी कई थाने की पुलिस फोर्स लेकर मौके पर पहुंचे। अधिकारियों ने हंगामा कर रहे लोगों को जल्द से जल्द आरोपी की गिरफ्तार का आश्वासन दिया। तब जाकर क्षेत्रीय लोग शांत हुए। वहीं बच्ची को मेडिकल के लिए जिला अस्पताल भेजा गया है। जहां पर बच्ची की हालत गंभीर बताई जा रही है।
वहीं क्षेत्रीय पार्षद मनोज वर्मा, छात्र नेता अंकित चौधरी, निक्की गौड़, अंकुर प्रजापति, गौरव गुप्ता ने बताया कि यह कॉलेज अवैध बना हुआ है। जिसकी जांच कर कार्यवाही की जानी चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि अगर आरोपी को पुलिस ने जल्द से जल्द गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे नहीं पहुंचाया तो वह आंदोलन के लिए बाध्य होंगे।

Share it
Top