प्रेम दीवानी अनम बनी 'इशिका' तो हो गया हंगामा

प्रेम दीवानी अनम बनी इशिका तो हो गया हंगामा

मेरठ। ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र में मजहब की दीवार गिराकर गैर संप्रदाय के युवक से प्रेम विवाह रचाने के बाद बुधवार उसकी प्रेमिका अपनी ससुराल जा पहुंची। युवती के परिजनों ने उसके अपहरण का शोर मचाते हुए थाने पर हंगामा कर दिया। थाने पहुंची युवती द्वारा खुद के बालिग होने और शादी के प्रमाण देने के बाद पुलिस ने उसे उसके पति के साथ भेज दिया।
ब्रह्मपुरी के पत्थर वाला अहाता निवासी कय्यूम की पुत्री अनम का पिछले करीब डेढ़ वर्ष से बागपत गेट निवासी आकाश पुत्र पप्पू वाल्मीकि से प्रेम प्रसंग चल रहा था। करीब दो माह पूर्व दोनों ने परिजनों को बताए बिना आर्य समाज मंदिर में शादी कर ली और अनम ने धर्म परिवर्तन कर अपना नाम इशिका रख लिया। बुधवार को इशिका अपने घर से आकाश के घर पहुंच गई। उधर, उसके परिजनों ने आकाश पर उसके अपहरण का आरोप लगाते हुए थाने पर हंगामा कर दिया। मामला दो संप्रदायो से जुड़ा होने के चलते एक्शन मोड में आई पुलिस प्रेमी युगल थाने ले आई। थाने में युवती ने खुद को बालिग बताते हुए परिजनों के साथ जाने से इंकार कर दिया। भारी हंगामे के बाद दोनों ने अपनी शादी और अनम को 22 वर्ष का बताते हुए बालिग होने के प्रमाण पुलिस को सौंपे। जिसके बाद पुलिस ने युवती को उसके पति के घर भेज दिया।

Share it
Share it
Share it
Top