मेरठ: इंस्पेक्टर के खिलाफ लोगों का एसएसपी कार्यालय पर हंगामा

मेरठ: इंस्पेक्टर के खिलाफ लोगों का एसएसपी कार्यालय पर हंगामा


मेरठ। गुमशुदगी के मामलों में अक्सर हीला हवाली करने वाली खाकी पर इस बार कुछ और गंभीर आरोप लगे हैं। दरअसल ब्रह्मपुरी क्षेत्र से बीती 14 नवंबर से लापता चल रही आठवीं की छात्रा के परिजनों ने शनिवार को एसएसपी कार्यालय पर हंगामा करते हुए थानाध्यक्ष ब्रह्मपुरी को आरोपों के कठघरे में खड़ा किया। जिस पर एसएसपी ने छात्रा की बरामदगी के लिए 24 घंटे का समय दिया है। त्यागी ब्राह्मण समाज के लोगों ने 24 घंटे में छात्रा की बरामदगी ना होने पर कमिश्नरी में अनिश्चितकालीन धरने की चेतावनी दी है।

राष्ट्रीय त्यागी ब्राह्मण सभा की जिलाध्यक्ष जूही त्यागी के साथ शनिवार को समाज के दर्जनों लोगों ने कमिश्नरी चैराहे से लेकर एसएसपी कार्यालय तक पैदल मार्च निकाला। ब्रह्मपुरी क्षेत्र की रहने वाली गीता त्यागी ने बताया कि उनकी 12 साल की बेटी तनु क्षेत्र के एक स्कूल में कक्षा आठ की छात्रा है। जूही त्यागी ने बताया कि 14 नवंबर को तनु घर के बाहर खेलते समय लापता हो गई। इस मामले में परिजनों द्वारा ब्रहमपुरी थाने में उसकी गुमशुदगी दर्ज कराई गई। उन्होंने आरोप लगाया कि इसके बावजूद पुलिस ने अब तक छात्रा की बरामदगी का कोई प्रयास नहीं किया है। परिजन इस बाबत सवाल करने के लिए थाने जाते हैं तो थानाध्यक्ष ब्रह्मपुरी उनके साथ अभद्रता करते हैं।

इतना ही नहीं थानाध्यक्ष का यह भी कहना है कि उनके पास कोई अलादीन का चिराग नहीं जिससे वह छात्रा को बरामद कर लें। यहां तक कि शनिवार को पुलिस ने उल्टा छात्रा के पिता को ही हवालात में डाल दिया। जिस पर समाज के दर्जनों लोगों ने एसएसपी से विरोध जताते हुए छात्रा के पिता को तत्काल छोड़े जाने की मांग की। एसएसपी ने छात्रा के पिता को थाने से छुड़वाते हुए छात्रा की बरामदगी के लिए थाना पुलिस को 24 घंटे की मोहलत दी है। उधर, घटना से आक्रोशित त्यागी ब्राह्मण समाज के लोगों ने छात्रा की बरामदगी न होने पर 24 घंटे बाद कमिश्नरी में अनिश्चितकालीन धरने का ऐलान किया है।


Share it
Top