मेरठ: तेल माफिया और व्यापार संघ की जुगलबंदी पर छात्रों में आक्रोश, फूंका पुतला

मेरठ: तेल माफिया और व्यापार संघ की जुगलबंदी पर छात्रों में आक्रोश, फूंका पुतला


मेरठ। दो दिन पहले तेल माफिया की हिमायत में संयुक्त व्यापार संघ द्वारा की गई पत्रकार वार्ता को लेकर व्यापारी नेता छात्रों के निशाने पर आ गए हैं। सोमवार को छात्रों ने संयुक्त व्यापार संघ पर तेल माफिया को संरक्षण देने का आरोप लगाते हुए विश्वविद्यालय के गेट पर तेल माफिया और संयुक्त व्यापार संघ के पदाधिकारियों का पुतला फूंका। इसी के साथ इस मामले में आरोपी बनाए गए सभी व्यापारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की।

छात्र नेता आदेश प्रधान के नेतृत्व में चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय के छात्र सोमवार को विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार पर एकत्र हुए। उन्होंने जिले के तेल माफियाओं और संयुक्त व्यापार संघ के पदाधिकारियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी और हंगामा किया। छात्रों ने विश्वविद्यालय के गेट पर जिले के तेल माफिया और संयुक्त व्यापार संघ के पदाधिकारियों का पुतला फूंकते हुए चेतावनी दी कि यदि संयुक्त व्यापार संघ ने आरोपी कारोबारियों के बचाव का प्रयास किया तो छात्र इसका कड़ा विरोध करेंगे। बताते चलें कि प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा कुछ दिन पहले शहर के एक नामचीन तेल कारोबारी के गोदाम से कालाबाजारी का दो लाख लीटर से अधिक डीजल बरामद किया गया था। इस मामले में जहां पुलिस कारोबारी के खिलाफ मामला दर्ज कर उसकी घेराबंदी में जुटी है। वहीं, दूसरी ओर दो दिन पहले संयुक्त व्यापार संघ के पदाधिकारियों ने एक होटल में पत्रकार वार्ता करते हुए पुलिस पर तेल कारोबारियों के उत्पीड़न का आरोप लगाया था। जिसे लेकर अब छात्र व्यापारियों के खिलाफ लामबंद हो गए हैं। पुतला फूंकने वालों में सुधीर कुमार, संजय प्रजापति, सुनील प्रधान, अंकुश चौधरी, अमन चपराणा, यश बालियान आदि शामिल थे।


Share it
Top