चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय: कादिर एनकाउंटर पर भाकियू के तेवर सख्त, राकेश टिकैत ने जताया रोष

चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय: कादिर एनकाउंटर पर भाकियू के तेवर सख्त, राकेश टिकैत ने जताया रोष


मेरठ। पिछले दिनों चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय में हुए गोलीकांड के आरोपी को मुठभेड़ में घायल करने वाली जिले की पुलिस की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही हैं। इस मुठभेड़ को फर्जी बताते हुए अब भारतीय किसान यूनियन छात्रों के साथ खड़ी हो गई है। सोमवार को भारतीय किसान यूनियन के वरिष्ठ नेता राकेश टिकैत ने छात्रों के बीच पहुंचकर उनकी लड़ाई में साथ देने का ऐलान किया तो भाकियू नेता रविंद्र दौरालिया छात्र नेताओं के साथ एसपी देहात से मिले। गौरतलब है कि चैधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय में दो छात्रों को गोली मारे जाने के मामले में पुलिस ने आरोपी छात्र कादिर राणा को हिरासत में लिया था। पुलिस के मुताबिक कादिर ने दरोगा की पिस्टल छीनकर हिरासत से फरार होने का प्रयास किया, इसी दौरान दोनों ओर से हुई फायरिंग में उसके पैर में गोली लग गई। जिसके बाद पुलिस ने बीस हजार के इनामी कादिर को जेल भेज दिया।

मगर इस मुठभेड़ को फर्जी बताते हुए छात्रों और तमाम राजनीतिक संगठनों ने पुलिस के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। छात्रों का कहना है कि एक भाजपा विधायक के कहने पर उन्होंने खुद कादिर को पुलिस के हवाले किया था। इसी के चलते सोमवार को भारतीय किसान यूनियन के नेताओं ने अधिकारियों से मुलाकात करते हुए इस पूरे प्रकरण की निष्पक्ष जांच कराए जाने की मांग की। भाकियू नेता राकेश टिकैत ने छात्रों के बीच जाकर उनकी लड़ाई में सहयोग का ऐलान किया और पुलिस को इस मामले की निष्पक्ष जांच करने की हिदायत दी। भाकियू के वरिष्ठ मंडल उपाध्यक्ष रविंद्र दौरालिया ने एसपी देहात अविनाश पांडेय से मिलकर इन एनकाउंटर की निष्पक्ष जांच कराकर कार्रवाई करने की मांग की।

Share it
Top